आरएसएस के सर्वे में बड़ा खुलासा, मध्य प्रदेश में कमजोर पड़ रही शिवराज सरकार…

0
371

Shivraj

सरकार आत्मुग्ध है लेकिन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक सर्वे ने उसे झकझोरकर जगा दिया है। मप्र में शिवराज सरकार के खिलाफ विरोध की लहर चल रही है। ठीक वैसी ही जैसी कभी दिग्विजय सिंह सरकार के खिलाफ चल रही थी। संघ ने इसे गंभीर चेतावनी माना है। देखना यह होगा कि क्या सीएम शिवराज सिंह चौहान भी आत्ममुग्धता से बाहर आ पाएंगे।

भोपाल में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के पदाधिकारियों, भारतीय जनता पार्टी के नेताओं और अनुषांगिक संगठन की दो दिन चली बैठक में ‘पार्टी की छवि’ की चिंता छाई रही।एक सर्वे में ये सामने आया है कि प्रदेश में सरकार के खिलाफ एंटी इंकमबेंसी बढ़ रही है, जिसे बैठक में समय रहते रोकने की हिदायत दी गई। आरएसएस ने खुद प्रदेश में एक सर्वे करवाया था, जिसमें ये पाया गया कि अब रुख भाजपा के खिलाफ होने लगा है। इस मुद्दे पर बैठक में पार्टी के विरुद्ध बनते माहौल को समय रहते रोकने की बात कही गई।

गरीबों और दलितों पर फोकस
सूत्रों का कहना है कि संघ ने भाजपा से गरीबों और दलितों के लिए अभियान चलाने को कहा है। ये ऐसे दो बड़े वर्ग हैं, जो जनाधार बढ़ाने में सहायक हैं। इस अभियान में अनुषांगिक संगठन भी भाजपा का साथ देंगे। संघ को लगता है कि इसी रास्ते से चौथी बार सत्ता में आया जा सकता है।

रिपोर्टर – दीक्षा रावत

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY