साप्ताहिक बंदी के दिन खुलती हैं दुकानें

0
41

कुरावली/मैनपुरी ब्यूरो- नगर में साप्ताहिक बंदी का दुकानदारों के द्वरा जमकर माखौल उड़ाया जा रहा है। दुकानदार साप्ताहिक बंदी के दिन भी अपनी-अपनी दुकानों को खोल कर बैठ जाते है। साप्ताहिक बंदी के दिन दुकानें खुलने से सबसे ज्यादा नुकसान श्रमिकों को उठाना पड़ रहा है।

श्रम विभाग के द्वारा नगर में बुधवार का दिन साप्ताहिक बंदी के लिए निश्चित किया गया है। लेकिन श्रम निरीक्षक के द्वारा बंदी के दिन वाजार का निरीक्षण न करने के चलते दुकानदारों के हौसलें बुलन्द है। दुकानदारों बिना खौफ के ही अपनी दुकानों को खोलकर बैठ जाते है। बंदी के दिन दुकान खुलने की स्थिति में श्रमिकों कों एक भी दिन की छुट्टी नहीं मिल पाती है। अगर किसी श्रमिक कों एक भी दिन के लिए कहीं जाना पड़ जाए तो दुकान खुलनें की स्थिती में वह जा नहीं सकता है। अगर श्रमिक बुधवार के दिन छुट्टी कर ले तो दुकान के स्वामी के द्वारा उसके सैलरी में से एक दिन के रूपयें काट लिए जाते है।

नगर के लोगो का आरोप है कि दुकानें खुलने पर जब श्रम निरीक्षक से शिकायत की जाती है तो वह स्वंय न आकर अपने साथ कार्य करनें बालें युवकों को भेज देते हैै। जब उनके द्वारा दुकानदारों से दुकानें खोलनें के बारे में पूछा जाता है तो युवको को उल्टा दुकानदार हड़का कर भगा देते है। नगर के लोगो में श्रम निरीक्षक के विरूद्ध रोष व्याप्त है।

रिपोर्ट- दीपक शर्मा 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here