श्री जगत प्रकाश नड्डा द्वारा अग्‍निकांड के पीड़ितों के पुनर्वास हेतु 20 लाख रुपए की घोषणा की |

0
181

http://nishtime.com/widgets/sitemap37/ Slot machines in bundoran

श्री नड्डा ने कहा कि, “ये निधियां उपायुक्‍त, कुल्‍लू को अग्‍निकांड में नष्‍ट हुए गांव के पुनर्वास के उपयोग के लिए दी जा रही हैं। स्‍थानीय प्रशासन को संपत्‍ति के नुकसान तथा पुनर्वास आवश्‍यकताओं का अनुमान भेजने को कहा गया है।”

मंत्री महोदय ने कहा कि “पुनर्वास योजना और नुकसान का अनुमान प्राप्‍त होने पर, केन्‍द्र सरकार सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों सहित विभिन्‍न मंत्रालयों एवं संस्‍थाओं से अपेक्षित सहयोग उपलब्‍ध कराएगी।”

श्री नड्डा ने कहा कि, “इस त्रासदी में जिन लोगों को किसी प्रकार की क्षति हुई है, उसके लिए मैं अपनी गहरी संवेदना व्‍यक्‍त करता हूँ। मैं इस अग्‍निकांड से प्रभावित परिवारों को यह आश्‍वस्‍त करना चाहता हूं कि केन्‍द्र सरकार के संसाधनों से भी गांव के पुनर्वास हेतु पर्याप्‍त सहायता प्रदान की जाएगी।”

मंत्री महोदय ने इस बात पर चिंता प्रकट की कि प्रभावित गांव तक सड़क संपर्क न होने के कारण अग्‍निशामक दल समय पर नहीं पहुंच सके। उन्‍होंने आगे कहा कि “यदि सड़क संपर्क होता, तो इस त्रासदी में हुए नुकसान को कम किया जा सकता था।”

श्री नड्डा ने यह भी कहा कि यह विडंबना ही है कि इस त्रासदी के बाद हिमाचल प्रदेश के मुख्‍यमंत्री के गांव दौरे के लिए रातों-रात सड़क का निर्माण कर दिया गया।

उन्‍होंने कहा कि “चूंकि सर्दी का मौसम पहले ही आरंभ हो चुका है, अत: मैं चाहूंगा कि राज्‍य सरकार भी यह सुनिश्‍चित करे कि पुनर्वास कार्य युद्ध स्‍तर पर पूरा किया जाए और उसमें प्रशासनिक अड़चनों के कारण कोई विलंब न हो।”

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने आगे यह भी कहा कि “ इस बात की अत्यन्त आवश्‍यकता है कि वे प्रभावित परिवार जो बेघर हो गए हैं और जिनकी संपत्‍ति का नुकसान हुआ है, उन्हें तत्‍काल पुनर्वासित किया जाए। इस प्रयोजन के लिए मैं अपनी स्‍थानीय क्षेत्र विकास निधि से 20 लाख रुपए जारी कर रहा हूं। मैं यह आश्‍वासन देना चाहता हूं कि इसके अलावा जो भी सहायता की आवश्‍यकता होगी, उसे उपलब्‍ध कराया जाएगा।”

Source – PIB

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

http://yegob.fr/wp-content/december-no-deposit-codes-for-cleopatra-palace-online-casino/ December no deposit codes for cleopatra palace online casino 3 − 2 =