श्री पीयूष गोयल ने हरियाणा के झज्जर स्थित इंदिरा गांधी सुपर थर्मल पावर प्लांट का दौरा किया |

0
275

The Minister of State (Independent Charge) for Power, Coal and New and Renewable Energy, Shri Piyush Goyal visiting the Indira Gandhi Super Thermal Power Project (IGSTPP-3x500 MW), Jhajjar, Haryana, on October 27, 2015. 	The Cabinet Minister for Agriculture, Haryana, Shri O.P. Dhankar, the CMD, NTPC, Shri A.K. Jha, the Director (HR), NTPC, Shri U.P. Pani, the CEO, Aravali Power Company Pvt. Ltd. IGSTPP, Shri S.K. Sinha and senior officials are also seen.

बिजली, कोयला, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री पीयूष गोयल ने आज हरियाणा के झज्जर स्थित इंदिरा गांधी सुपर थर्मल पावर प्रोजेक्ट (आजीएसटीपीपी-3×500 मेगावाट) का दौरा किया। इस दौरान हरियाणा के कृषि मंत्री श्री ओ.पी. धनखड़, हरियाणा, एनटीपीसी के सीएमडी श्री ए.के. झा, और एनटीपीसी के निदेशक (मानव संसाधन) श्री यूपी पाणि भी श्री गोयल के साथ थे। अरावली पावर कंपनी प्राइवेट लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) श्री एसके सिन्हा और आजीएसटीपीपी के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा गणमान्य व्यक्तियों स्वागत किया गया।

अपनी यात्रा के दौरान श्री गोयल ने बिजली संयंत्र का निरीक्षण किया और इसकी गतिविधियों और प्रदर्शन की समीक्षा की। मीडिया को सम्बोधित करते हुए श्री गोयल ने कहा कि पावर प्लांट का दिल कंट्रोल रूम बहुत प्रभावशाली है और टीम के उत्साह से वह विशेष रूप से खुश हैं। उन्होंने कहा कि इस अभिनव कार्य को अन्य स्टेशनों में उपयोग के लिए विकसित किया जा रहा है। गणमान्य व्यक्तियों ने बिजली संयंत्र के पास पौधारोपण भी किया।

आजीएसटीपीपी का संक्षिप्त विशेषताएं :

 कंपनी अरावली पावर कंपनी प्राइवेट लिमिटेड– एनटीपीसी लिमिटेड, एचपीजीसीएल और आईपीजीसीएल का एक संयुक्त उद्यम
क्षमता चरण I: 1500MW(3X500 मेगावाट) – साधिकार (कमीशनंड)

 

स्थिति मेगा पावर प्रोजेक्ट
इक्विटी शेयरिंग  एनटीपीसी (50%), एचपीजीसीएल (25%), आईपीजीसीएल (25%)
स्थान साइट झरली हरियाणा के झज्जर जिले से 35 किमी. और दिल्ली से 100 किमी. (लगभग) की दूरी पर है। यह 2191 एकड़ की भूमि क्षेत्र को कवर करता है। संयंत्र चार गांवों झरली, गोरिया, मोहन बाड़ी और खानपुरखुर्द से घिरा हुआ है।
लाभार्थी हरियाणा, दिल्ली, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, पंजाब, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, आंध्र प्रदेश, केरल और तेलंगाना।
कोयले की आपूर्ति आज की तारीख में कोयले की आपूर्ति महानदी कोलफील्ड लिमिटेड, पूर्वी कोलफील्ड लिमिटेड और उत्तरी कोलफील्ड लिमिटेड से की जा रही है।
जल स्रोत जवाहर लाल नेहरू (जेएलएन) फीडर नहर से जल आपूर्ति।
बिजली निकासी  दो सहयोगी 400 किलोवाट डबल सर्किट ट्रांसमिशन प्रणाली के माध्यम से दौलताबाद (हरियाणा) और मुंडका (दिल्ली) तक।

Source – PIB

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

sixteen − 9 =