फर्जी इस्पेक्टर को छह माह की सजा

0
81

गोरखपुर (ब्यूरो)- फर्जी इनकम टैक्स का इस्पेक्टर बन कर धन उगाही करने का आरोप सिद्ध पाये जाने पर सीजेएम बाकर शमीम रिजवी ने गोरखपुर के शाहपुर थाना क्षेत्र के राप्तीनगर बशारत पुर निवासी अभियुक्त अनुराग श्रीवास्तव और चौरीचौरा थाना क्षेत्र के चौरी निवासी अभियुक्त उद्घेश्वर को छह माह के कारावास की सजा सुनाई गई है|

कोर्ट मे अभियोजन पक्ष की ओर से लोक अभियोजक असीम आलम लारी ने बताया कि चौरीचौरा थाना क्षेत्र के भोपाबाजार निवासी वादी मकबूल अहमद का चमड़ा मंडी के पास घर है एक मार्च १९९७ को दिन के करीब १२.३० बजे अनुराग श्रीवास्तव चार लोगो के साथ एक गाड़ी से आये और इनकम टैक्स इस्पेक्टर होने का धौस देकर कट्टा तान दिया और पचास हजार रूपये के मांग करने लगे|साक्ष्यो के आधार पर न्यायालय ने छह माह की सजा सुनायी|

रिपोर्ट-जयप्रकाश यादव

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here