उन्नाव में काले कपडे में दिखे छः संदिग्ध व्यक्ति

0
194

चकलवशी(उन्नाव ब्यूरो)– लकड़ी बीनने के लिए बबूल के जंगल में गए बच्चे काले लिबास पहने हुए छ: संदिग्ध लोगों को देख कर वहाँ से भाग निकले और गांव पहुंच कर इसकी सूचना दी| गामीणो ने पुलिस को सूचना दी, लेकिन दो घंटे बाद पुलिस वहां पहुंची और गांव के पीछे आम के बगीचे के पास चूल्हा पत्तल पानी के खाली पाउच व दूसरे जनपद की शराब का खाली पउवा पडा हुआ मिला।

सफीपुर कोतवाली क्षेत्र के अटवा ऊमर गांव के बीच में जंगली बबूल का जंगल है| ऊमर गांव निवासी सुनील शर्मा पुत्र रमेश शर्मा ने बताया कि वह सुबह दिशा मैदान के लिए उधर गया था, वही पर छ: लोग जो कि काले कपड़े पहने हुए थे और मुह ढके हुए थे हाथ में चाकू पीठ पर बैग लिये हुए थे, जिन्हें देखकर वह वापस लौट आया| अटवा निवासी अंशू पुत्र राजकुमार 08 अंकित रिंकू पुत्रगण बबूल कल्लू पुत्र छममी जो कि 11 बजे उसी जंगल में लकड़ी लेने के लिए गये| जहां इन बच्चों ने छ: हथियार बन्द काले कपड़े पहने संदिग्ध लोगों को देखा और भाग लिये और घर पर सूचना दी| गांव के ही समरेनद सिंह ने पुलिस को सूचना के साथ डायल 100 व पुलिस अधीक्षक को सूचना दी लेकिन डेढ घंटे बाद पुलिस पहुंची, बडी संख्या में वहां पर ग्रामीण भी मौजूद थे| कुछ साहसी युवकों ने कुछ दूर तक जंगल में खोजबीन की लेकिन वहां कुछ भी नहीं मिला|

ऊमर गांव के पश्चिम जहां आम के बागीचा व बास की कोठी है, एक ईट का चूल्हा खाली पत्तल गोरखपुर जनपद का लेबल लगा शराब की खाली पऊवा पानी के खाली पाउच पडे होने की सूचना पर पुलिस व गामीण वहां पहुंचे वही पर सी ओ सफीपुर अशोक सिंह ने सुनील शर्मा से जानकारी ली| कुछ भी हो संदिग्ध लोगों को देखे जाने की खबर में जंगल में आग की तरह फैल गई और लोग एक दूसरे से जानकारी लेते रहे कि क्या ये सच है? लेकिन गामीणो मे खौफ साफ पर देखा जा सकता है|

रिपोर्ट- अशोक दुबे
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY