छोटे – छोटे गाँव पर बैंकों में जमा कर रखे हैं हजारों करोड़

0
162

गाँव – माधापुर, परिवारों की संख्या – 7630, बैंक डिपाजिट – 5,000 करोड़

गाँव – केरा, परिवारों की संख्या – 1863, बैंक डिपाजिट – 2,000 करोड़

गुजरात के “कक्ष’ क्षेत्र में कुछ ऐसे गाँव है जिन्होंने बैंकों में हजारों करोड़ रूपये जमा कर  रखा है, असल में इस गाँव में रहने वाले परिवारों के  ज्यादातर लोग NRI हैं, यहाँ के बैंकों  के होर्डिंग्स पर अक्सर NRIs के लिए जमा राशि पर ज्यादा ब्याज ( 10% तक ) जैसे  विज्ञापन देखने को मिल जाते हैं, कच्छ के कुछ गांवों जैसे केरा, माधापुर, बल्दिया के NRIs ने काफी मात्रा में पैसा बैंकों में डिपाजिट का रखा है |

स्टेट लेवल बैंकर कमिटी के भूतपूर्व संयोजक  के. सी. चिप्पा के अनुसार ये दर देश के किसी भी अन्य जगह से अधिक है,  केरा, माधापुर, बल्दिया के बीच में 30 बैंक और 24 एटीएम हैं |

बैंकरों के अनुसार क्षेत्र में कई अन्य गाँव भी हैं जिन्होंने 100 से 500 करोड़ तक का डिपाजिट कर रखा है |

बल्दिया के लगभग 60% NRIs अपनी सारी पूँजी बैंकों में रखते हैं, हीराभाई हलासिया कहते हैं कि हम लोग ऐसा इसलिए करते हैं क्योंकि हम खुद को मातृभूमि का ऋणी मानते हैं, मेरे जैसे लोग जो हर 3 – 4 साल में हाँ आते हैं अपनी जन्मभूमि को कुछ वापस करना चाहते हैं |

 

source – TOI

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY