स्मृती ईरानी डिग्री केस पर फैसला आज 

0
358

स्मृती ईरानी  स्वतंत्र लेखक अहमर खान के द्वारा दायर याचिका जिसमे आरोप लगाया गया है  कि केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्री स्मृती ईरानी ने नामांकन पत्र दाखिल करते समय  अपनी शैक्षणिक योग्यता के संबंध में चुनाव आयोग को तीन बार तीन अलग –  अलग ब्योरे दिए हैं |

याचिका में कहा गया कि अप्रैल 2004 में लोकसभा चुनाव के समय दाखिल  हलफनामे में ईरानी ने अपनी योग्यता 1996 में पत्राचार द्वारा दिल्ली विश्वविद्यालय से बी. ए. बताई जबकि 2011 गुजरात राज्य सभा चुनाव में उन्होंने अपनी योग्यता दिल्ली विश्वविद्यालय के पत्राचार स्कूल से बीकॉम पार्ट वन बताई और 2014 लोकसभा चुनाव नामांकन में उन्होंने अपनी योग्यता दिल्ली विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ़ ओपन लर्निंग से बीकॉम पार्ट वन बताई है इससे स्पष्ट होता है कि शैक्षणिक योग्यता के सम्बन्ध में एक ही तथ्य सही है |

इस मामले पर दिल्ली का पटियाला हाउस कोर्ट आज फैसला सुना सकता है कि स्मृती के खिलाफ मामला चलाया जा सकता है या नही, इस सम्बन्ध में पटियाला हाउस कोर्ट ने 1 जून को फैसला सुरक्षित रखा था |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here