स्मृति ईरानी के महिषासुर वाले बयान पर विपक्ष तमतमाया, संसद में हंगामा

0
284

दिल्ली- कांग्रेस समेत समूचा विपक्ष मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी के खिलाफ एक के बाद एक नया मोर्चा खोलने पर तुला हुआ है I कल स्मृति ईरानी ने जैसे ही देश के सबसे विवादित रहने वाले विश्वविद्यालय जेएनयू में बाँटे गए पर्चे जिसमे माँ दुर्गा का अपमान और महिषासुर का महिमामंडन किया गया था उसे पढ़ा तो विपक्ष इस पूरे मामले को और स्मृति के कटाक्ष को सहन नहीं कर पाया I

विपक्ष ने पूरे मामले को एक अलग ही दिशा दे दी और स्मृति ईरानी के ऊपर हिन्दुओं की भावनाओं को आहत करने और माँ दुर्गा का अपमान करने का ठीकरा फोड़ दिया I विपक्ष ने इस पूरे मामले को तूल देते हुए स्मृति ईरानी से माफ़ी मांगने की बात कही है I

इसे भी पढ़ें – जेएनयू और रोहित वेमुला मामले में स्मृती के भाषण की मोदी ने ट्वीट कर की तारीफ |

क्या कहा था स्मृति ईरानी ने –
स्मृति ईरानी ने संसद में बहस के दौरान महिषासुर दिवस के आयोजन का एक पर्चा पढ़कर सुनाया था। उन्होंने कहा कि ‘ मुझे ईश्वर माफ करें इस बात को पढ़ने के लिए। इसमें लिखा है कि दुर्गा पूजा सबसे ज्यादा विवादास्पद और नस्लवादी त्योहार है। जहां प्रतिमा में खूबसूरत दुर्गा मां को काले रंग के स्थानीय निवासी महिषासुर को मारते दिखाया जाता है। महिषासुर एक बहादुर, स्वाभिमानी नेता था, जिसे आर्यों द्वारा शादी के झांसे में फंसाया गया। उन्होंने एक सेक्स वर्कर का सहारा लिया, जिसका नाम दुर्गा था, जिसने महिषासुर को शादी के लिए आकर्षित किया और 9 दिनों तक सुहागरात मनाने के बाद उसकी हत्या कर दी। स्मृति ने गुस्से से तमतमाते हुए सवाल किया कि क्या ये अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता है? कौन मुझसे इस मुद्दे पर कोलकाता की सड़कों पर बहस करना चाहता है?

सरकार की ओर से बोलते हुए नेता सदन अरुण जेटली ने कहा कि विपक्ष इस मुद्दे से बहस को भटकाने की कोशिश कर रहा है। जेटली ने कहा कि कोई विचारधारा देश को तोड़ने की बात करे तो ये स्वीकार्य नहीं। यह बात बहुत स्पष्ट है कि इस देश में शैक्षिक स्वतंत्रता पर कोई पाबंदी नहीं है। जेटली ने कहा कि कोई राष्ट्रविरोधी विचारधारा को कैसे स्वीकर कर सकता है। जेटली ने कहा कि जादवपुर यूनिवर्सिटी में भी देश विरोधी नारे लगे। ये कैसी अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता है?

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here