सामाजिक संस्था का मना स्थापना दिवस

0
215

gyan jyoti kendra

चन्दौली (ब्यूरो)- मुगलसराय सामाजिक संस्था चेतना मंच का सातवां स्थापना दिवस शनिवार को चंधासी स्थित कैंप कार्यालय में मनाया गया। इस दौरान पिछले वर्ष क्रियाकलापों की जहां चर्चा की गई वहीं अभी तक चल रहे छह ज्ञान ज्योति केंद्रों की समीक्षा भी की गई। इस दौरान सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि इस वर्ष सभी वार्डों में ज्ञान ज्योति केंद्र खोले जाएंगे। इसके साथ ही नगर में सुभाष पार्क के इर्द गिर्द स्थान चयनित कर नेकी बैंक खोला जाएगा।

संस्था के संस्थापक व संयोजक विनय कुमार वर्मा ने बताया कि ज्ञान ज्योति केंद्रों का अच्छा परिणाम आ रहा है। छह केंद्रों पर 300 बच्चे इस समय शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं। सभी को बैग व पुस्तकें प्रदान कर दी गई हैं। अब इस वर्ष अन्य क्षेत्रों में भी युद्धस्तर पर ज्ञान ज्योति केंद्र खोले जाएंगे। उन्होंने कहा कि लोग खुलकर ज्ञान ज्योति केंद्र को सहयोग कर रहे हैं। संस्था के मुख्य संरक्षक सतीश जिंदल ने कहा कि नेकी बैंक के लिए संस्था ने निर्णय लिया है कि इसमें लोग अपना अतिरिक्त सामान लाकर दे सकते हैं, पर इसे संस्था के कार्यकर्ताआें द्वारा जरूरतमंदों तक पहुंचाया जाएगा।

बाद में पूरे नगर में जरूरतमंदों को चिह्नित कर उन्हें नेकी बैंक का पासबुक जारी किया जाएगा। संस्था के अध्यक्ष रामधनी सिंह चौहान ने कहा कि संस्था ने सात वर्षों में अपने नि:स्वार्थ कार्य के कारण संस्था ने हर क्षेत्र में लोगों का विश्वास जीता है। हर महीने एक बड़ा स्वास्थ्य शिविर कराया जा रहा है। अभी तक विशेष रोगों का शिविर लगाया जा चुका है। आगे भी यह क्रम जारी रहेगा। अंत में वर्ष का आय व्यय व लेखा-जोखा कोषाध्यक्ष संजय शर्मा ने प्रस्तुत किया। महामंत्री आशाराम यादव ने कुछ नए पदाधिकारियों की घोषणा की। जिसमें विष्णुकांत अग्रवाल, रतनलाल श्रीवास्तव, राजेंद्र कुशवाहा, कैलाश मित्तल को संरक्षक व डा. आेपी सिंह को उपाध्यक्ष मनोनीत किया गया।

इस मौके पर राजू प्रजापति, चंदन सिंह, दयाराम, राजकुमार चौहान, संजय कुमार, संजय श्रीवास्तव, सुशील वर्मा, सत्यम वर्मा, छोटेलाल सहित भारी संख्या में लोग उपस्थित थे।
रिपोर्ट-दीपनारायण यादव/उमेश दुबे

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here