वाराणसी दुर्घटना- साझा संस्कृति से जुड़े सामाजिक कार्यकर्ताओं ने शोक सभा का किया आयोजन

0
60

वाराणसी- साझा संस्कृति मंच से जुड़े सामाजिक कार्यकर्ताओं ने वृहस्पतिवार की शाम डा अम्बेडकर पार्क कचहरी पर एक श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया. जिसमे कैंट फ्लाईओवर दुर्घटना में मृत लोगों के परिवारों के प्रति सम्वेदना व्यक्त की गयी. ज्ञातव्य है कि मंच से जुड़े लोगों ने बुधवार को सभी अस्पतालों में जाकर घायलों का हालचाल लिया था और रक्तदान शिविरों में स्वेच्छा से रक्तदान किया था. मंगलवार की शाम को भी अनेक कार्यकर्ता घटनास्थल पर थे और यथा संभव राहत कार्य में लगे हए थे.

सभा में लोगों ने हादसे में घायल लोगों को शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की. शोक सभा को संबोधित करते हुए संयोजक फादर आनंद ने कहा कि फ्लाई ओवर की बीम गिरने की दुःखद घटना  हुयी उसके लिए कार्यदायी संस्था उत्तर प्रदेश सेतु निगम के अधिकारी, ठेकेदार व प्रशासन जिम्मेदार है, जिसका खामियाजा निर्दोष जनता को अपनी जान देकर उठाना पड़ा. इनके विरूद्ध कठोर कानूनी कार्यवाही तुरंत होनी चाहिए। जागृति राही ने कहा कि सुरक्षा मानको  का यदि सख्ती से पालन किया गया होता तो यह दुःखद घटना नहीं होती.

 

जगन्नाथ कुशवाहा ने कहा कि इस दुर्घटना के बाद सरकारी कामकाज की प्रणाली के प्रति ग्रामीणों और स्थानीय निवासियों स्वाभाविक आक्रोश है।

सभा में प्रस्ताव पारित कर मांग की गयी कि लोक निर्माण मत्री का तत्काल इस्तीफ़ा और सभी परियोजनाओं की साप्ताहिक विवेचना करने वाले जिलाधिकारी का निलंबन होना चाहिए. जांच में घटना के प्रभाव में आये लोगों और उनके परिजनों तथा प्रत्यक्ष दर्शियों का बयान लिया जाना चाहिए. वाराणसी में संचालित सभी विकास योजनाओं की सुरक्षा की दृष्टि से समीक्षा की जाय.

सभा में डा एस पी राय, बिन्दु सिंह, लक्ष्मण प्रसाद, प्रदीप सिंह, मिथिलेश दुबे, ओमप्रकाश, रंजू सिंह, नन्दलाल मास्टर, फादर  आनंद, सुरेन्द्र कुमार, नीतू सिंह, डा अनूप श्रमिक, डा. आरिफ, डा आनंद प्रकाश तिवारी, सच्चिदानंद, मुकेश  आदि शामिल रहे.

रिपोर्ट- राज कुमार गुप्ता 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here