चंद महीनों में ख़राब हो गयी सोलर लाइट्स, सभासद ने की शिकायत

0
43

जालौन (ब्यूरो) नगर पलिका परिषद द्वारा नगर में लगायी गयी तीन करोड की मानक सोलार लाइटोें के चन्द महीनों में खराब हो जाने के कारण बर्बाद हुए सरकारी धन की शिकायत सभासद ने जिलाधिकारी से की जिस पर जिलाधिकारी उपजिलाधिकारी के नेतृत्व में तीन सदस्यी कमेटी गठित कर जांच कराने का आदेश दिया है।

सभासद शाकिर हसन वारसी ने एक शिकायती प्रार्थना पत्र जिलाधिकारी नरेन्द्र शंकर पांडेय को दिया है जिसमें शिकायत की है कि नगर पालिका परिषद कार्यालय में व्याप्त भ्रष्टाचार तथा कमीशन खोरी के चक्कर में आधे कमीशन वाली घटिया किस्म की सोलर लाईटें लगवायी गयीं। नगर में लगी घटिया किस्म की सोलर लाईटें चंद दिनों में ही खराब हो गयीं। नगर के मुख्य चैराहों, सभाषदों, नेताआंे व पत्रकारों के घरों के आसपास लगी व शमशान घाटों पर लगी अधिकांश लाईटें खराब पडी हैं। नगर में अधिकांश 3 करोड की लाग त से लगी हुयी लाईटें खराब पडी हैं। इसके बाद भी नगर पालिका ने कांजी हाउस से सब्जी मंडी तक एलइडी सोलर लाइटें लगवायीं हैं। सोलर लाईटों के नाम पर हुये घोटाले की जांच कराकर कार्यवाही किये जाने की मांग की है। सभाषद की शिकायत पर जिलाधिकारी ने सफाई व रोशनी निरीक्षक सुरेश यादव व ईओ से जबाव मांगा किंतु सोलर लाईटों की बैकल्पिक संशाधन नोयडा से न खरीद किसी कंपनी की खरीदने व एक बार लगने के बाद परिणाम अच्छे न आनेे के बाद पुनः सोलर लाईटेें उसी कंपनी से खरीदने पर जिलाधिकारी ने सफाई निरीक्षक को फटकार लगायी व मामले की जांच अपर जिलाधिकारी के नेतृत्व में तीन सदस्यी टीम से कराने का निर्णय लिया जिससे तीन करोड की सोलर लाईटों की खरीद में हुये घोटाले का सच सामने आ सके।

रिपोर्ट – अनुराग श्रीवास्तव

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY