शिकायती प्रार्थना पत्रों का गुणवत्ता के साथ 1 सप्ताह के अंदर करें निस्तारण

0
61

वाराणसी (ब्यूरो) जिलाधिकारी योगेश्वर राम मिश्र ने तहसील दिवस पर प्राप्त होने वाले शिकायती पत्रों का निस्तारण गुणवत्ता के साथ प्रत्येक दशा में एक सप्ताह के अन्दर सुनिश्चित किये जाने पर विशेष जोर देते हुए अधिकारियों को किसी भी स्तर पर लापरवाही न बरतने की हिदायत दी। उन्होने कहॉ कि शिकायती पत्रों के निस्तारण की गुणवत्ता में कमी अथवा खानापूर्ति मिलने पर जिम्मेदार अधिकारी/कर्मचारी बख्से नही जायेगें। जिलाधिकारी ने विभागीय अधिकारियांें को आईजीआरएस पोर्टल से प्राप्त होने शिकायती पत्रों के निस्तारण की समीक्षा के दौरान विभागीय स्तर पर लम्बित प्रार्थना पत्रों का अभियान चलाकर निस्तारण पर जोर देते हुए कहॉ कि इसकी समीक्षा स्वंय मुख्यमंत्री द्वारा किया जा रहा है। इसलिये विभागीय अधिकारी इसे पूरी संवेदनशीलता के साथ ले तथा प्राप्त शिकायती पत्रों का निस्तारण प्रत्येक दशा में प्राथमिकता पर सुनिश्चित कराये।   

जिलाधिकारी योगेश्वर राम मिश्र मंगलवार को तहसील दिवस के मौके सदर तहसील पर जनसमस्याओं का निस्तारण कर रहे थे। उन्होने झूठी शिकायत करने वालो को भी हिदायत देते हुए कह कि बिना वजह झूठी शिकायत करके लोगो को परेशान करने वालों के विरूद्व भी कार्यवाही अवश्य किया जायेगा। प्रार्थना पत्रों के निस्तारण के दौरान स्थलीय भ्रमण अवश्य किये जाने की हिदायत देते हुए उन्होने निस्तारण के दौरान दोनो पक्षो से वार्ता आदि अवश्य किये जाने पर जोर दिया तथा निर्देशित किया कि शिकायतों के निस्तारण की गुणवत्ता भी अवश्य जॉची जाय। उन्होने कड़े निर्देश देते हुए कहॉ कि तहसील दिवस पर प्राप्त शिकायती पत्रों का निस्तारण समय एवं गुणवत्ता के साथ किये जायेगे, तो शिकायतकर्ताओं को बिनावजह जिला मुख्यालयों का चक्कर नही काटना पड़ेगा। तहसील दिवस के मौके पर मंगलवार को तहसील सदर 210 पर, पिण्डरा पर 122 एवं राजरालाब पर 139 सहित कुल 471 प्राप्त शिकायती पत्रों में से तहसील सदर पर 07, पिण्डरा पर 05 एवं राजातालाब पर 14 सहित कुल-26 शिकायती प्रार्थना पत्रों का मौके पर निस्तारण किया गया। शेष प्रार्थना पत्रों को विभागीय अधिकारियों को उपलब्ध कराते हुए एक सप्ताह के अन्दर निस्तारण करने का निर्देश दिया।  तहसील दिवस के मौके पर सदर में एसएसपी नितिन तिवारी, अपर जिलाधिकारी प्रशासन मुनीन्द्र नाथ उपाध्याय, उपजिलाधिकारी सुशील कुमार गौड़ सहित तीनों तहसील मुख्यालयों पर पुलिस, विद्युत, जलनिगम, स्वास्थ्य, लोक निर्माण विभाग, पंचायत आदि अन्य विभागीय अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहें।

रिपोर्ट – रवींद्रनाथ सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here