सपा में खींचतान के आकलन में जुटे प्रत्याशी और कार्यकर्ता

0
167

 

mulayamचाँदमारी(अजगरा)– सपा में शीर्ष नेतृत्व के लिए एक दूसरे से लगातार बढटी दूरी व विधानसभा चुनाव की तैयारी मे पार्टी कार्यकर्ता अपने को अजीबो-गरीब स्थित में पा रहे है। समाजवादी पार्टी में स्थिति सुधरने के बजाय वर्चस्व और अधिकार की लड़ाई और गहराती जा रही है । ऐसे दिन देखने की बात भी पार्टी के लोगों ने कभी सोची भी नहीं होगी। इस लड़ाई से जहाँ कार्यकर्ता उदास हैं तो वहीं प्रत्याशी भी चुनाव के मद्देनजर अपने नफ़ा नुकसान का आकलन करने में लगे हुए हैं और साथ ही जनता का मन टटोल रहे हैं ।

अजगरा विधानसभा से सपा प्रत्याशी लालजी सोनकर ने मकर संक्रांति के दिन एक कार्यक्रम में मंच से ऐलान किया की वे दोनों धड़ों से घोषित प्रत्याशी हैं इसलिये उनका टिकट कटना असम्भव है । उन्होंने मंच से पहले अखिलेश फिर मुलायम सिंह यादव के जिन्दाबाद के नारे लगाये और जनता से सहयोग की अपील की। इस सम्बन्ध में जब लालजी सोनकर से पूछा गया कि सपा के विभाजन कि स्थिति में वे किस धड़ से चुनाव में जायेंगे तो उन्होंने कोई जबाब नहीँ देते हुए अभी शीर्ष नेतृत्व की लड़ाई के पटाक्षेप होने का इंतजार करने की बात कही । वहीं कार्यकर्ताओं के रुख से साफ है की ज्यादातर कार्यकर्ता एवं पदाधिकरी अखिलेश यादव के पक्ष में हैं । अब देखना ये है कि जनता में इस  लड़ाई का क्या असर पड़ता है और जनता अपना फैसला किसके पक्ष में सुनाती है ।

रिपोर्ट-दीपनारायण यादव/नागेन्द्र कुमार

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here