स्पेशल जज एएसी-एसटी एक्ट जमाल मसूद अब्बासी ने गैरहाजिर चल रहे आरोपियों को आगामी 1 फरवरी के लिए तलब

0
137

delhi court (photo credit -delhi court nic.in)
सुलतानपुर : भूमि अधिग्रहण मुआवजे में मिली लाखों की रकम हड़पने की नीयत से दलित की हत्या के मामले में सभी आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने आरोपपत्र दाखिल कर दिया है। स्पेशल जज एएसी-एसटी एक्ट जमाल मसूद अब्बासी ने गैरहाजिर चल रहे आरोपियो को आगामी 1 फरवरी के लिए तलब किया है।

मामला कोतवाली देहात थानाक्षेत्र के पन्नाटिकरी गांव का है। जहां की रहने वाली दलित हीरावती ने अपने पति रामगोपाल की हत्या को लेकर बीते 29 अगस्त को मुकदमा दर्ज कराया। आरोप के मुताबिक उसके पति को भूमि अधिग्रहण को लेकर मुआवजे में करीब 20 लाख रूपये मिले थे। जिसे हड़पने की नीयत से गांव के ही प्रधानपति संतोष जायसवाल ने अपने सहयोगी राजेन्द्र प्रसाद शुक्ला व अलगू के सहयोग से 20 लाख 10 हजार रूपये रामगोपाल के खाते से निकलवा लिए और उसकी पत्नी को मात्र दो लाख रूपये ही वापस किए, शेष पैसे हड़प लिए। इसी मामले को लेकर बीते 25 अगस्त को उसके पति को घर से ले जाकर जहरीला पदार्थ देकर मार डालने का आरोप है। इसी मामले में पुलिस ने तीनों आरोपियों के खिलाफ हत्या सहित अन्य धाराओं में दर्ज किया। जिसकी तफ्तीश क्षेत्राधिकारी मुकेश चन्द्र मिश्रा ने की। उन्होंने आरोपी अलगू के खिलाफ पहले ही आरोपपत्र दाखिल कर दिया था। जो कि अब भी जेल में निरूद्ध है, वही नामजद राजेन्द्र प्रसाद शुक्ला व संतोष जायसवाल के खिलाफ विवेचना प्रचलित रही। जिनके विरूद्ध भी जुटाये गए साक्ष्यों के आधार पर क्षेत्राधिकारी को पर्याप्त सबूत मिल है। इसी आधार पर उन्होंने राजेन्द्र प्रसाद व संतोष जायसवाल के खिलाफ भी आरोपपत्र हत्या सहित अन्य धाराओं में दाखिल किया है। स्पेशल जज जमाल मसूद अब्बासी ने दोनों आरोपियों को जरिये सम्मन तलब किया है।

रिपोर्ट–संतोष कुमार यादव

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here