चुनाव का बहिष्कार कर सकते है कताई मिल के श्रमिक

0
159

बलिया (ब्यूरो)- उ.प्र. कतई मिल मजदूर संघ के तत्वावधान में रसड़ा बंद कताई मिल के श्रमिकों की बैठक स्थानीय ब्रहमाईन सती मॉ के मंदिर प्रांगण में संपन्न हुई। जिसमे कताई मिल बंदी के 16 वर्ष बाद भी श्रमिकों के समस्त देयों का भुगतान न किये जाने तथा कताई मिल को चालू न किये जाने पर गहरा रोष जताया गया।

श्रमिकों ने यह ऐलान किया है कि 28 फरवरी को बैठक कर मतदान का बहिष्कार करने का भी निर्णय ले सकते है। बैठक को सम्बोधित करते हुए संगठन के रसड़ा इकाई के अध्यक्ष जयप्रकाश वर्मा ने कहा कि सत्ता में जिनकी भी हुकूमते रही सभी ने श्रमिकों, किसानों, मजदूरों के हितों की अनदेखी की।

जिसका जीता जागता उदाहरण चलती फिरती कताई मिलों को बंद कर श्रमिकों को भुखमरी के मुंह में ढकेलना है। उन्होंने कहा कि जो दल व नेता उन्हें कताई मिल मजदूरों के बकायों के भुगतान करने व मिलों को चालू करने के मुद्दे पर अपना विश्वास दिलायेंगे, उन्हें वे अपना समर्थन दे सकते है। अन्यथा बैठक कर चुनाव बहिष्कार का फैसला लेने को बाध्य होंगे। बैठक में राधामोहन सिंह, कैलाश राजभर, विजयशंकर राम, सुरेन्द्र राम, शिवमंगल यादव, बब्बन राजभर आदि श्रमिक उपस्थित रहे। संचालन रामचन्द्र यादव ने किया।


रिपोर्ट-संतोष कुमार शर्मा

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here