सर्वोच्च नयायालय ने दिए आदेश, अब होगा वृन्दावन में रहने वाली विधवाओं का कल्याण

0
499

vrandavan Widows

रिट याचिका (नागरिक) 2007 की संख्‍या 659(पर्यावरण एवं उपभोक्‍ता सुरक्षा संगठन बनाम भारत सरकार एवं अन्‍य) में माननीय सर्वोच्‍च न्‍यायालय ने उत्‍तर प्रदेश सरकार के महिला एवं शिशु कल्‍याण विभाग के प्रधान सचिव को नोडल अधिकारी के रूप में नियुक्‍त किया। माननीय सर्वोच्‍च न्‍यायालय ने नोडल अधिकारी को कम से कम दो अवसरों पर वृंदावन का दौरा करने तथा सरकारी अधिकारियों, सदस्‍य सचिव, डी.एल.एस.ए. और कुछ विधवाओं समेत संबंधित साझीदारों से मिलकर वृंदावन में विधवाओं का जीवन स्‍तर और उन्‍हें उपलब्‍ध अन्‍य सुविधाओं के बारे में प्राथमिक जानकारी प्राप्‍त करने का निर्देश दिया। नोडल अधिकारी को उनकी स्थिति में सुधार लाने के लिए एक कार्य योजना तैयार करने का भी निर्देश दिया गया।

 

उपरोक्‍त निर्देशों के अनुरूप नोडल अधिकारी ने 13 मार्च, 2015 को बृज धाम में बुजुर्ग महिलाओं तथा विधवाओं के लिए संचालित किये जा रहे आश्रय गृहों/दान संस्‍थान का दौरा किया तथा उन गृहों में रहने वाली महिलाओं/विधवाओं के जीवन स्‍तर के बारे में जिला प्रशासन और अन्‍य साझीदारों से जानकारी एकत्रित की। इसके अतिरिक्‍त निम्‍नलिखित व्‍यवस्‍थायें भी की गई हैं।

 

1.सीएमओ के निर्देश/दिशानिर्देश के अंतर्गत चिकित्‍सकों की एक टीम चिकित्‍सकीय जांच करने एवं दवाओं का वितरण करने के लिए सप्‍ताह में तीन दिन बृज धाम में आश्रय गृहों का दौरा करेगी।

2.मथुरा के नगर निगम को आश्रय गृहों में स्‍वच्‍छता बनाये रखने की जिम्‍मेदारी सौंपी गई। कमरों/शौचालयों की दैनिक स्‍वच्‍छता व्‍यवस्‍था भी की गई है।

3.आश्रय गृहों की मरम्‍मत करने के लिए उत्‍तर प्रदेश की राज्‍य सरकार द्वारा 3.65 करोड़ रूपये की मंजूरी दी गई है और मथुरा के जिलाधीश के निर्देशन में निर्माण/मरम्‍मत कार्य किया जा रहा है।

4.आश्रय गृहों में रहने वालों के लिए जेब खर्च/भोजन खर्च को जून, 2015 तक आरटीजीएस के जरिये उनके बैंक खातों तक हस्‍तांतरित कर दिया गया है।

5.पीने का पानी मुहैया कराने के लिए सबमर्सिबल पंप, नया आरओ तथा पानी की नई टंकियां लगाई गई हैं।

6.मनोरंजन के टीवी और डिश एंटिना लगाये गये हैं।

7.आश्रय गृहों में रहने वालों की मृत्‍यु होने की स्थिति में मथुरा के जिला प्रशासन के पर्यवेक्षण में अंत्‍येष्टि के लिए व्‍यवस्‍थायें की गई हैं।

8.आश्रय गृहों में रहने वालों को पेंशन/विधवा पेंशन उनके संबंधित बैंक खातों में जमा किया जा रहा है।

9.उचित दर की दुकानों पर राशन की व्‍यवस्‍था आश्रय गृहों के परिसरों के भीतर ही की जा रही है।

  1. सभी आश्रय गृहों में 24 घंटे की सुरक्षा मुहैया कराई जा रही है।

 

केन्‍द्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती मेनका संजय गांधी ने आज राज्‍यसभा में एक अतारांकित प्रश्‍न के उत्‍तर में यह जानकारी दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here