आप भी जान लीजिए क्या है कार्टियक अरेस्ट और हार्ट अटैक में अंतर

0
243

बॉलीवुड में मिस हवा हवाई के नाम से फेमस हुई श्रीदेवी के आक्स्मिक निधन से पूरा सिने जगत शोक में डूबा हुआ है…आखिर हो भी क्यों ना अपनी छरहरी काया और बेहतरीन अदाकारी के साथ श्रीदेवी ने लोगों के दिल में जगह बना ली..तमिलनाड़ु के एक छोटे से गांव शिवाकाशी से निकल कर 4 साल की उम्र में अभिनय के क्षेत्र में कदम रखने वाली श्रीदेवी ने देखते ही देखते तमिल,मलयालम और कन्नड़ फिल्मों के साथ ही साथ बॉलीवुड में भी अपनी अच्छी खासी पहचान बना ली थी…इतना ही नहीं बाद में वो बॉलीवुड की सबसे बेहतरीन फीमेल आर्टिस्ट भी बनीं…जिसके लिए वर्ष 2013 में उनको पद्मम श्री अवार्ड से सम्मानित भी किया गया…बॉलीवुड में सोलवा सावन फिल्म से ऐंट्री करने के बाद जुदाई, हिम्मतवाला ,इंग्लिश-विंगलिश और मॉम जैसी फिल्मों में अपनी ऐक्टिंग को लोगों ने काफी सराहा था…
बता दें कि श्रीदेवी की मौत दुबई में हुई..जहां वो अपने पति बोनी कपूर और छोटी बेटी जाह्नवी कपूर के साथ अपने भांजे मोहित मारवाज की शादी में पहुंची थी….जहां कार्डियक अरेस्ट आने से उनकी मौत हुई…अब तक तो आपने सिर्फ श्रीदेवी की मौत की खबर सुनकर दुख ही जताया होगा…और कईयों ने सोचा होगा कि उनकी मौत हार्ट अटैक से हुई है..लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नही है…दरअसल श्रीदेवी की मौत की वजह थी “कार्डियक अरेस्ट”…अब आपके दिमाग में जरूर आया होगा कि आखिर कार्डियर अरेस्ट है क्या…तो चलिए अब आपको बताते हैं कि हार्ट-अटैक और कार्डियक अरेस्ट में अंतर क्या है…

 देखें ये वीडियो: Shocking ! खूबसूरत दिखने की चाह ने कुछ इस तरह से ली Sri Devi की जान

 

क्या है कार्डियक अरेस्ट

कार्डिएक अरेस्ट अचानक होता है और शरीर की तरफ से कोई चेतावनी भी नहीं मिलती…और आप का दिल रक्त संचार करना बंद कर देता है.नार्मल भाषा में बोले तो इसकी वजह आम तौर पर दिल में होने वाली इलेक्ट्रिकल गड़बड़ी है, जो धड़कन का तालमेल बिगाड़ देती है… इससे दिल की पम्प करने की क्षमता पर असर होता है और वो दिमाग, दिल या शरीर के दूसरे हिस्सों तक खून पहुंचाने में कामयाब नहीं रहता।

इसमें चंद पलों के भीतर इंसान बेहोश हो जाता है और नब्ज भी जाती रहती है। अगर सही वक्त पर सही इलाज न मिले तो कार्डिएक अरेस्ट के कुछ सेकेंड या मिनटों में मौत हो सकती है।

क्या है हार्ट अटैक

हार्ट अटैक तब होता है, जब शरीर की कोरोनरी आर्टरी (धमनी) में अचानक रूकावट पैदा हो जाती है. इस आर्टरी से हार्ट की पेशियों तक खून पहुंचता है, और जब वहां तक खून पहुंचना बंद हो जाता है, तो वे इनऐक्टिव हो जाती हैं, यानी हार्ट अटैक होने पर दिल के भीतर की कुछ पेशियां काम करना बंद कर देती हैं.
वैसे, जिन लोगों को पहले से दिल की बीमारी हो, उनमें कार्डियक अरेस्ट होने की आशंका ज़्यादा रहती है.
श्रीदेवी जैसी महान अदाकारा का नाम बॉलीवुड के इतिहास में हमेशा के लिए दर्ज रहेगा..

जानिए कौन थी Shree Devi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here