प्रांतीय वैश्य सम्मेलन एवं अभिनंदन समारोह संपन्न

0
66


मैनपुरी (ब्यूरो) अखिल भारतीय वैश्य एकता परिषद द्वारा आयोजित विगत दिवस 23 जुलाई को इटावा में प्रांतीय वैश्य सम्मेलन एवं अभिनंदन समारोह संपन्न हुआ। जिसमंे पूरे प्रदेश के हजारों प्रतिनिधियों ने भाग लिया। इस सम्मेलन में राष्ट्रीय व प्रांतीय पदाधिकारियों के साथ-साथ जिले के पदाधिकारियों की घोषणा की गयी। जिससे संगठन को गतिशील व प्रभावी बनाया जा सके। इस सम्मेलन की अध्यक्षता मा0 सलिल विष्नोई प्रदेष महासचिव भारतीय जनता पार्टी ने की। इस प्रांतीय सम्मेलन में श्री महेष गुप्ता विधायक बदायूं, श्रीमती सरिता भदौरिया विधायिका इटावा, श्रीमती कठेरिया विधायिका भरथना ने भाग लिया। इसके साथ ही इस सम्मेलन का समापन मा0 एसपी सिंह बघेल प्रदेष मंत्री उत्तर प्रदेष सरकार ने किया। इस सम्मेलन में संगठन को सुदृढ व प्रभावी बनाने पर जोर दिया गया। तथा प्रदेश के आये हुए विभिन्न वक्ताओं ने भी अपने विचार रखे।

वहीं सर्व सम्मति से यह भी प्रस्ताव पारित किया कि व्यापारी कल्याण बोर्ड का गठन किया जाये तथा व्यापारी हेल्पलाइन प्रदेष सरकार द्वारा बनाई जाये। इसके साथ ही जीएसटी देष की अर्थ व्यवस्था के लिए अति आवष्यक है इससे देष विकासषील से विकसित राष्ट्र में सम्मलित हो जायेगा। लेकिन इसके कुछ प्रावधान व्यापार व उद्योग की प्रगति मे बाधक हैं। मांग की गयी कि छोटे, मध्यम व मझोल स्तर के व्यापारियों के लिए इसके कुछ प्रावधानांें में संषोधन होना अति आवष्यक है। जैसे पेनेल्टी के साथ जेल जाने का जो प्रावधान किया गया है उसे समाप्त किया जाये तथा महीने में प्रत्येक माह तीन बार रिटर्न दाखिल करने की अनिवार्यता को समाप्त किया जाये और तीन महीने में एक बार रिटर्न दाखिल कराने की अनिवार्यता की जाये तथा जीएसटी में पंजीकृत व्यापारी के बीमा की राषि 20 लाख रूप्ये की जानी चाहिए। तथा वृद्धावस्था पेंषन भी पंजीकृत व्यापारी को प्राप्त हो जिससे उसका शेष जीवन कुषलतापूर्वक कट सके। प्रदेष में बढ़ते अपराध पर गहरी चिंता की गयी तथा मांग की गयी कि अपराधियों के विरूद्ध पूरे प्रदेष मे अभियान तीव्र गति से चलाना चाहिए। आवष्यकता पडने पर एनकाउण्टर के आदेष भी देने चाहिए। फिरेाजाबाद में प्रतिष्ठित व्यापारी श्री संजीव गुप्ता का जो अपहरण हुआ है इस पर गहरी चिंता व्यक्त की गयी तथा पुलिस महानिदेषक से मांग की गयी कि प्रतिष्ठित उद्योगपति श्री संजीव गुप्ता की सकुषल वापसी कराने का गंभीरता से प्रयास किया जाना चाहिए। जिससे व्यापारियों में पुलिस के प्रति विष्वास की भावना पैदा हो सके।

रिपोर्ट – दीपक शर्मा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here