समृद्धि के लिए राज्यों को कारोबार को सरल बनाने की जरूरत है- श्री अरूण जेटली

0
175

The Union Minister for Finance, Corporate Affairs and Information & Broadcasting, Shri Arun Jaitley addressing at the inauguration of the Resurgent Rajasthan Partnership Summit 2015, in Jaipur on November 19, 2015.

केंद्रीय वित्त, कोरपोरेट मामले, सूचना और प्रसारण मंत्री श्री अरूण जेटली ने कहा कि भारत प्रक्रिया को सरल बनाकर निवेश आकर्षित करने की नीति का पालन कर रहा है। राज्यों को भी निवेश प्रक्रिया के दौरान समयावधि में कटौती करके इसी नीति का अनुशरण करना चाहिए। निवेशक अपनी इच्छा अनुसार स्थान और विभिन्न राज्यों का चयन कर रहे हैं। आज जयपुर में रिसर्जेंट राजस्थान भागीदारी शिखर सम्मेलन का उद्धाटन करते हुए उन्होंने कहा कि व्यापार को सरल बनाने के मामले में राजस्थान को अग्रणी होना चाहिए। आकांक्षापूर्ण क्षेत्रीय सहायता वृद्धि, सुधार और परिवर्तन में बढोतरी होने के कारण जनसमर्थन में भी वृद्धि हो रही है। सरकारों को चाहिए कि शासन को भ्रष्टाचार से मुक्त करें और यह भी सुनिश्चित करें कि हमारे टैक्स न्याय संगत हों और बिना किसी भेदभाव के भूमि आदि सुविधाएं सुनिश्चित की जाएं। उन्होंने कहा कि राजस्थान एतिहासिक भूमि वाला राज्य है। इसके शहर और गांव वास्तव में इतिहास के प्रतीक हैं। राजस्थान के लोगों का यह गुण है कि वे पूरे देश में या विश्व में कहीं भी जाकर धन को कई गुणा बढ़ा लेते हैं और उन्हें अपनी जड़ों पर गर्व रहता है। उन्होंने राज्यों से अनुरोध किया कि वे विकास का ऐसा मॉडल अपनाएं जिसमें निजी क्षेत्र से अधिक से अधिक निवेश उपलब्ध हो सके।

इस अवसर पर केंद्रीय शहरी विकास, आवास और शहरी गरीबी शमन मंत्री श्री एम वेंकैया नायडू ने राजस्थान को केंद्र सरकार से सभी प्रकार की सहायता देने की पेशकश की। उन्होंने कहा कि उनके मंत्रालय ने शहरी नवीकरण कार्यक्रम के तहत स्वच्छ भारत, स्मार्ट सिटी, अमृत और उदय जैसी अनेक पहलें चला रखी हैं। स्मार्ट सिटी के तहत चुने गए 100 शहरों में से चार राजस्थान के हैं।

केंद्रीय रसायन और उर्वरक मंत्री श्री अनन्त कुमार ने राजस्थान के झालावाड़ में 500 करोड़ रुपये की लागत से नेशनल फार्मा शिक्षा और अनुसंधान संस्थान स्थापित करने की घोषणा की। यह संस्थान अंतर्राष्ट्रीय स्तर का होगा। उन्होंने राज्य के लिए इस वर्ष 12 लाख एमटी यूरिया आवंटित करने की भी जानकारी दी।

केंद्रीय रेल मंत्री श्री सुरेश प्रभु ने कहा कि रेलवे राजस्थान को सभी प्रकार की मदद देने के लिए प्रतिबद्ध है। राजस्थान एक पर्यटन राज्य है और रेलवे पर्यटन के विकास के लिए समग्र सहायता उपलब्ध रहा रही है। राज्य की मुख्यमंत्री श्रीमती वशुंधरा राजे ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के कुशल नेतृत्व के अधीन केंद्र सरकार मजबूत सशक्त राज्यों के प्रास्थितिकीय तंत्र को पोषित कर रही है। उन्होंने कहा कि विकास का राजस्थान मॉडल सामाजिक न्याय, प्रभावी सुशासन और रोजगार सृजन पर टिका है। इस अवसर पर राजस्थान के राज्यपाल श्री कल्याण सिंह, सूचना और प्रसारण राज्य मंत्री कर्नल राज्यवर्धन राठौर और देश के जाने-माने उद्योगपति भी उपस्थित थे।

Source – PIB

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

fifteen − ten =