एलपीजी से संचालित विद्यालय वाहनों पर करें कठोर कार्यवाही- डीएम


जालौन ब्यूरो : स्कूलों में संचालित वाहनों के फिटनेश व एलपीजी से संचालित होने वाले वाहनों की सघन चौकिंग करके इनके खिलाफ कड़ी कार्यवाही अमल में लायी जाये। उक्त बात जिलाधिकारी नरेन्द्रशंकर पाण्डेय ने कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित सड़क सुरक्षा समिति की बैठक को सम्बोधित करते हुए कहीं।

उन्होंने कहा कि किसी भी दशा में बच्चों के जीवन से खिलवाड़ नहीं होने दिया जायेगा। इस लिए जो भी वाहन अनफिट पाये जाये जिन्हें तत्काल बंद करा दिया जाये तथा एलपीजी से संचालित वाहनों को पकड़ कर कठोर कार्यवाही की जाये। बैठक में स्कूलों में नोडल अधिकारी नामित करने एवं उसकी सूचना जिला प्रशासन को देने के निर्देश दिये गये जो यातायात प्रबंधन को देखेंगे। उन्होंने कहा कि दोपहिया वाहन से स्कूल आने वाले छात्र-छात्राओं को हेलमेट अनिवार्य करने तथा विना हेलमेट के स्कूल में प्रवेश वर्जित किया जाये तथा स्कूलों में यातायात नियमों के प्रशिक्षण की व्यवस्था की जाये। उन्होंने कहा कि सड़क सुरक्षा क्लब बनाकर स्कूलों में प्रतियोगितायें करायी जाये जिसमें बच्चों को यातायात नियमों के पालन की जानकारी दी जाये।

जिलाधिकारी ने कहा कि माल एवं यात्री वाहनों में ओवरलोडिंग रोकने के लिए वाहन चालकों के ड्राइविंग लाइसेंस के निलम्बन एवं निरस्तीकरण की कार्यवाही अमल में लायी जाये। यातायात नियमों के पालन के प्रति जन सामान्य में जागरुकता उत्पन्न करने के उद्देश्य से नगर के प्रमुख चौराहों पर अनिवार्य रुप से नियामक चेतावनी सूचनात्मक सड़क संकेत एवं विभिन्न प्रकार के ट्रेफिक सिग्नल के साइन बोर्ड लगवाने के निर्देश सम्बंधित विभाग को दिए इसके साथ ही सभी वाहनों पर रिफलेक्टर लगवाने के निर्देश दिये जिससे सड़क किनारे खड़े वाहनों का पता चल सकें। उन्होंने कहा कि जनपद में आटो, टैम्पो एवं टैक्सी की पार्किग की व्यवस्था किये जाने पर चर्चा की गयी। स्कूल प्रबंधक स्कूली वाहनों में वाहन की फिटनिस, प्राचार्य का मोबाइल नम्बर लिखवाये तथा चालक को हिदायत दें कि वह वाहन को तेज रफ्तार में कतई न चलाये तथा धीमी गति से ही चलाये। बैठक में प्रमुख रुप से अपर पुलिस अधीक्षक सुभाषचन्द्र शाक्य, अपर जिलाधिकारी न्याय गुलाबचन्द्र, मुख्य चिकित्साधिकारी डा. अल्पना बरतारिया, उप जिलाधिकारी अक्षय त्रिपाठी, तीनों एआरटीओ सहित अन्य अधिकारी, यूनियन के अध्यक्ष तथा स्कूलों के प्रधानाचार्य, प्राचार्य उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here