स्कूल जा रही छात्रा को बस ने रौंदा, मौत

0
77

रायबरेली (ब्यूरो)  शिवगढ़ थाना क्षेत्र के बांदा बहराइच मार्ग पर स्थित अहलादगढ़ मजरे भवानीगढ़ के पास स्टेट बैंक के सामने स्थित न्यू पब्लिक इंटर कॉलेज में पढ़ रही कक्षा आठ की छात्रा दीपांजलि पुत्री दिनेश गौतम उम्र लगभग 14 वर्ष निवासी झमईखेड़ा मजरे गूढ़ा की सायकिल व एसजेएस बंछरावां की  स्कूल बस की सीधी भिड़ंत हो जाने से छात्रा की मौके पर ही मौत हो गई। दीपांजलि न्यू पब्लिक अकादमी इंटर कॉलेज भवानीगढ़ में इसी साल कक्षा 8 में प्रवेश लिया था और पढ़ने में होनहार थी।

मां कमला देवी ने बताया कि इसके पहले अन्य दो भाई बहन के साथ शैल अवधेश पब्लिक स्कूल खजुरो में बच्चे पढ़ रहे थे। जिसमें दीपांजलि ने जिद करके न्यू पब्लिक इंटर कॉलेज में अपना नाम लिखाया था और कक्षा 8 में साइकिल से पढ़ने के लिए आती थी। रोज की तरह आज भी अपना टिफिन लेकर विद्यालय की ओर आ रही थी, कि न्यू पब्लिक इंटर कॉलेज के नजदीक पहुंचते ही शिवगढ़ की ओर से बच्चे लेकर आ रही एसजेएस पब्लिक स्कूल बछरावां की बस ने ठोकर मार दी। स्थानीय लोगो व स्कूल स्टाफ ने तत्काल उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शिवगढ़ पहुँचाया जहाँ पर अधीक्षक डॉ आरएस कुठार ने उसे मृत घोषित कर दिया। डॉ कुठार ने बताया कि उसके सर पर गंभीर चोट लगने से ही उसकी मौत रास्ते में ही हो चुकी थी। मृतका के पिता दिनेश कुमार गौतम गुजरात में प्राइवेट नौकरी करता है और यहां मां कमला देवी के सहारे उसके तीनों बच्चे श्वेतांजली, दीपांजलि, और हर्षित पढ़ाई-लिखाई करते है।

मां का रो-रो कर बुरा हाल
दीपांजलि की मां कमला देवी ने कहा सुबह-सुबह रोज की तरह टिफिन बना करके बिटिया को बड़े प्यार से दिया और सड़क के किनारे-किनारे जाने की सलाह देते हुए स्कूल भेजा था। क्या पता था कि जिस बिटिया को 10 मिनट पहले मैं स्कूल भेज रही हूं,उसके मरने की सूचना भी हमे अभी मिलेगी। छोटा भाई हर्षित व बड़ी बहन श्वेतांजली का रो रो कर बुरा हाल है। सभी कहते है आज स्कूल न जाती तो अच्छा होता। इधर विद्यालय प्रधानाचार्य अनूप पांडे ने बताया कि छात्रा पढ़ने में ठीक थी, शोक सभा करते हुये तत्काल विद्यालय में छुट्टी कर दी गई।

थानाध्यक्ष लालचंद्र सरोज ने बताया कि शव को पीएम के लिये भेजा गया है और बस को मय चालक के पता कर लिया गया है। पुलिस भेज कर कब्जे में लिया जायेगा।

रिपोर्ट- राजेश यादव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here