सीएमओ ने किया चार चिकित्सा केंद्रों का औचक निरीक्षण, खामियां मिलने पर हुए नाराज

0
117

ballia_hospital_
बलिया (ब्यूरो) : मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ पीके सिंह ने चार स्वास्थ्य केंद्रों का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान आधा दर्जन से ज्यादा कर्मचारी ड्यूटी से गायब मिले। नगरा पीएचसी को ताला ही बंद मिला जबकि वैना में एक डाॅक्टर एडवांस में हाजिरी बनाकर गायब थे। सीएमओ ने इन सभी लापरवाह कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की बात कही है।

आपको बता दें कि बुधवार को निकले सीएमओ अचानक वैना पीएचसी पहुंच गये। इस दौरान वहां पाया कि डाॅ सर्वेश कुमार एडवांस हस्ताक्षर बनाकर गायब है। एएनएम किरन पुरी भी दो दिन से विना किसी अवकाश प्रार्थना पत्र दिये गायब है। इस पर सीएमओ ने गहरी नाराजगी जताई। इस दौरान वहां लगाई जाने वाली कोल्ड चेन प्वाइंट के स्थल को भी देखा। इसके बाद गड़वार उपकेंद्र पर गये। वहां ओटी में काफी गंदगी मिलने तथा कई जरूरत की चीजें नही होने पर प्रभारी को फटकार लगाई।

पीएचसी रतसर पर निरीक्षण के दौरान रखे जेनरेटर को क्रियाशील करने का निर्देश दिया। वहां जब हाजिरी रजिस्टर देखा तो पाया कि डाॅ अजीत चैरसिया, हेल्थ सुपरवाइजर सत्येन्द्र पाण्डेय, संविदा नर्स रंजना चैहान विना बताये गायब है। वहां से नगरा पीएचसी गये तो ताला ही बंद मिला। मार्च महीने तक 04 बजे तक अस्पताल खोले रहने के निर्देश के बावजूद 03 बजे ही वहां ताला बंद कर सभी कर्मी गायब थे। सीएमओ ने बताया कि इस बड़ी लापरवाही पर वहां के चिकित्साधिकारी डाॅ मुकेश वर्मा पर कार्रवाई होगी। 

रिपोर्ट-संतोष कुमार शर्मा

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here