जिला चिकित्सालय पुरूष का जिलाधिकारी द्वारा किया गया औचक निरीक्षण, रसोइयां का ठेका निरस्त करने के दिये कड़े निर्देश

0
231


प्रतापगढ़ ब्यूरो : जिलाधिकारी श्री शरद कुमार सिंह ने तहसील सदर स्थित जिला चिकित्सालय का औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान पाया गया कि चिकित्सालय के डा0 द्वारा लिखी गई दवाओं की पर्चिया लेकर चिकित्सालय के मुख्य गेट पर स्थित मेडिकल स्टोर क्रमशः भारत मेडिकल स्टोर, अग्रवाल मेडिकल स्टोर एवं जमजम मेडिकल स्टोर पर दवा खरीद रहे थे जिनमें से मुख्य रूप से श्रीमती सानिया देवी तथा स्वेम्पत्ति देवी दवाये खरीद रही थी। उक्त मरीजों से जिलाधिकारी महोदय ने पूछा तो बताया कि चिकित्सालय के डाक्टरों द्वारा लिखी गई है जो अस्पताल में उपलब्ध नही थी। उक्त पर्ची के सम्बन्ध में मुख्य चिकित्सा अधीक्षक से पूछतांछ की गई तो स्पष्ट जानकारी नही दे पाये कि किस चिकित्सक द्वारा लिखी गई है। मौके पर उपस्थित मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया कि उक्त समस्त पर्ची की जांच कराक 03 दिन के भीतर कार्यालय में जांच रिपोर्ट प्रस्तुत करें। साथ ही यह सुनिश्चित करें कि किसी भी स्थिति में दवाये बाहर से न खरीदी जाये। चिकित्सालय के मुख्य द्वार से लेकर पूरे परिसर में 2 पहिया, 4 पहिया तथा रिक्शा द्वारा जाम लगाया गया था। इस सम्बन्ध में मुख्य चिकित्सा अधीक्षक को निर्देश दिया गया कि वाहनों को खड़ा करने के लिये उपजिलाधिकारी/क्षेत्राधिकारी नगर से मिलकर वाहन खड़ा करने के लिये स्टैण्ड हेतु स्थान चिन्हित कराना सुनिश्चित करें। निरीक्षण के दौरान सुरक्षा के सम्बन्ध में जानकारी ली तो बताया गया कि एक उप निरीक्षक तथा 02 पुलिस तैनात किये गये है जिसमें से उप निरीक्षक कभी भी चिकित्सालय में नही आते पुलिस वाले कभी कभी दिखायी देते है, जिसके लिये पुलिस अधीक्षक से अनुरोध किया गया कि उक्त पुलिस कर्मियों को निर्देश करने का कष्ट करें। ओ0पी0डी0 के समय कतिपय लोग चिकित्सकों के पास एम0आर0 बैठे रहते है जिसके लिये मुख्य चिकित्साधिकारी/मुख्य चिकित्सा अधीक्षक को निर्देश दिया गया कि एम0आर0 के लिये समय और दिन निर्धारित किया जाये जिससे उसी दिन तथा समय पर एम0आर0 मुलाकात करें।

चिकित्सालय में भर्ती मरीज श्री बजरंग बली मिश्र से पूंछतांछ करने पर बताया कि श्री बी0पी0 पाण्डेय अस्थि रोग विशेषज्ञ द्वारा उनसे बाहर से दवा मगायी है उक्त को संज्ञान में लेते हुये प्रकरण की जांच कर जांच आख्या 03 दिन में प्रस्तुत करें। चिकित्सालय के इमरजेन्सी व महिला वार्ड में भर्ती मरीजों से भोजन के सम्बन्ध में जानकारी ली तो बताया गया कि खिचड़ी एवं दूध दिया जाता है। इसके अतिरिक्त कुछ भी नही दिया जाता है। इस सम्बन्ध में चिकित्सा अधीक्षक से जानकारी ली किन्तु सन्तोषजनक उत्तर नही दिया। जबकि किचेन कक्ष में ताला लगा हुआ था मुख्य चिकित्सा अधीक्षक ने प्रभारी/ठेकेदार से सम्बन्ध में जानकारी की गयी और फोन पर सम्पर्क किया तो किचेन के ठेकेदार मो0 इश्तियाक का मोबाईल बन्द पाया गया। उक्त के सम्बन्ध में उपस्थित मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिया गया कि ठेकेदार का ठेका निरस्त करने की तत्काल नियमानुसार कार्यवाही की जाये और की गई कार्यवाही से अवगत कराया जाये। ब्लड बैंक में उपस्थित वरिष्ठ प्रयोगशाला सहायक श्री रमेशचन्द्र यादव से ब्लड के सम्बन्ध में जानकारी ली तो उनके द्वारा अवगत कराया गया कि वर्तमान समय में कुल 44 यूनिट ब्लड उपलब्ध है जिनमें से दिनांक 24 मई 2017 को एक यूनिट ब्लड एक्सपायर हो जायेगा। इस सम्बन्ध में मुख्य चिकित्सा अधीक्षक, प्रयोगशाला सहायक को निर्देश दिया गया कि 35 दिन के पश्चात् ब्लड किसी भी दशा में प्रयोग में न लाये। दवा वितरण कक्ष में दवाओं के वितरण आदि से सम्बन्धित रजिस्टर अद्यावधि नही किये गये है एवं उनका रख-रखाव सही ढंग से नही किया गया है, निर्देशित किया गया कि उक्त रजिस्टरों का रख-रखाव एवं अंकन सुनिश्चित किया जाये।

निरीक्षण के दौरान कक्ष के बाहर नाली पूरी तरह से जाम है और गन्दा पानी भरा है एवं नालियॉ टूटी हुई है। इस सम्बन्ध में मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिया गया कि चिकित्सालय की समस्त क्षतिग्रस्त नालियों की तत्काल मरम्मत करायी जाये साथ ही परिसर की साफ-सफाई नियमित होती रहे। जिलाधिकारी ने चिकित्सालय में स्टाफ की कमी है के बारे में मुख्य चिकित्सा अधीक्षक/मुख्य चिकित्साधिकारी से कहा कि स्टाफ की तैनाती किये जाने के सम्बन्ध में तत्काल पत्रावली कार्यालय में प्रस्तुत करायी जाये। जिलाधिकारी ने समस्त सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया कि उपर्युक्त दिये गये निर्देशों का अक्षरशः अनुपालन सुनिश्चित कराये, इसमें किसी तरह की लापरवाही न बर्ती जाये, अन्यथा की स्थिति में सम्बन्धित अधिकारी का उत्तरदायित्व निर्धारित करते हुये कार्यवाही अमल में लायी जाये। निरीक्षण के दौरान अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) श्री सोमदत्त मौर्य, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 यू0के0 पाण्डेय तथा मुख्य चिकित्सा अधीक्षक जिला चिकित्सालय डा0 प्रेम मोहन गुप्ता उपस्थित रहे।

रिपोर्ट – अवनीश कुमार मिश्र/जिला सूचनाधिकारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here