एक वर्ष से न्याय के लिए दर-दर की ठोकर खा रहा केसरीपुर का सूर्यनाथ

0
21

सुखपुरा/बलिया (ब्यूरो) -: थाना क्षेत्र के केशरीपुर निवासी सुर्यनाथ चौहान न्याय के लिए दर दर भटक रहा है। मुख्यमंत्री से लगायत पुलिस अधीक्षक व अन्य उच्चाधिकारियों के दरबार में दस्तक दे चुका है।बता दें कि 8/8/17 को इनके घर मे एक पडो़स का युवक रात में एक बजे घुस गया वह अटैची लेकर भागने वाला था।इसी बीच इनकी पुत्रबधू जग गई।वह उसको पकड़ कर शोर मचाने लगी।मौका देखकर वह पुत्रबधू का मंगलसूत्र लेकर भाग गया।इसकी सूचना इन लोगों ने तत्काल सौ नम्बर पुलिस को दिया।दूसरे दिन थाने पर तहरीर भी दिया गया।लेकिन पुलिस ने उल्टे आपसी विवाद दिखा कर उसको व सुर्यनाथ के पुत्र को एक सौ एकावन में चलान कर दिया।लेकिन सुर्यनाथ के तहरीर पर कोई सुनवाई नही हुई।

सुर्यनाथ भी थकने वाला नही था वह तत्कालीन पुलिस अधीक्षक सुजाता सिंह से भी मिला। बहुत दौड़ने के बाद उच्चाधिकारियों के आदेश पर तीस जून अठारह को मुकदमा पंजीकृत हुआ लेकिन पुलिस तो अपराधी को बचाने के लिए हर हथकण्डा अपना रही है।सुर्यनाथ के मुकदमे पर फाईनल रिपोर्ट लगा दिया गया है।सुर्यनाथ का आरोप है कि फाईनल रिपोर्ट में मेरे विरोधी के करीबी को गवाह बनाया गया है।जबकि मेरे से इस बावत विवेचना अधिकारी ने कोई बात नही की।इनका कहना है कि नवम्बर में वे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी लखनऊ दरबार मे गुहार लगा चुके है।इनका कहना है कि न्याय नहीं मिलने तक वह शांत नही बैठेंगे।

रिपोर्ट – डॉक्टर विनय कुमार सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here