सुप्रीमकोर्ट ने दिया आदेश, अखिलेश सरकार के मंत्री गायत्री प्रजापति के ऊपर दर्ज होगा बलात्कार का मुकदमा

0
1264

Gayatri-Prajapati

नई दिल्ली- सुप्रीमकोर्ट ने यूपी की अखिलेश सरकार के दागी मंत्री गायत्री प्रजापति के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया है| आपको बता दें कि अखिलेश सरकार के मंत्री के ऊपर एक महिला ने आरोप लगाया था कि गायत्री प्रजापति ने उसके साथ तकरीबन 2 सालों तक लगातार बलात्कार किया था| महिला ने यूपी पुलिस के ऊपर आरोप लगाया था कि यूपी पुलिस ने उसकी शिकायत के बावजूद भी मामले में मुकदमा तक भी दर्ज नहीं किया है|

देश की सर्वोच्च न्यायालय ने उक्त मामले पर सुनवाई करने के बाद यूपी पुलिस को कड़ी फटकार लगाते हुए कहा है कि उक्त मामले पर मुकदमा दर्ज किया जाना चाहिए| यह भी बता दें कि SC ने मंत्री के विरुद्ध सीधे बलात्कार करने के आरोप में मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया है| साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने यूपी पुलिस से उक्त मामले में कार्यवाही करने और 8 हफ़्तों के भीतर इस मामले की रिपोर्ट को कौर्ट में सौंपने का आदेश दिया है|

क्या है पूरा प्रकरण-
आपको बता दें कि समाजवादी पार्टी की एक कथित कार्यकर्ता का आरोप है कि उसे राजनीति में आगे बढाने का सपना दिखाकर यूपी सरकार के मंत्री गायत्री प्रजापति ने वर्ष 2014 से लेकर जुलाई 2016 तक जबरन दुष्कर्म किया| महिला ने आरोप लगाया है कि कई मौकों पर तो उसने और उसके कुछ सहयोगियों ने उसके साथ सामूहिक बलात्कार की घटना को भी अंजाम दिया है| उसने कोर्ट को बताया है कि जब अखिलेश के मंत्री ने उसकी 14 वर्षीया बेटी के साथ दुष्कर्म करने की कोशिश की तो उसने पुलिस में शिकायत की| लेकिन पुलिस ने उसकी शिकायत दर्ज नहीं की थी |

डीजीपी ने कहा बिना अखिलेश यादव (मुख्यमंत्री) से पूछे मैं कुछ नहीं कर सकता –
महिला ने कोर्ट को बताया की उसने 7 अक्टूबर 2016 को डीजीपी यूपी के ऑफिस में जाकर खुद मंत्री के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाने की कोशिश की थी लेकिन उन्होंने (डीजीपी) ने कहा था कि वे इस मामले पर कोई भी कार्यवाही तब तक नहीं कर सकते है जब तक अखिलेश यादव से उनकी बातचीत नही हो जाती है| यदि सीएम कहेंगे तभी इस मामले में कोई मुकदमा दर्ज किया जा सकता है| महिला ने कहा कि इसके बाद उसके पास SC के अलावा कोई विकल्प नहीं था|

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY