सुप्रीमकोर्ट ने दिल्ली सरकार को लगाई करारी फटकार कहा, जब देखो तब कोर्ट आ जाते हो

0
311

दिल्ली- आज देश की सर्वोच्च न्यायालय ने दिल्ली में जल संकट के मामले में दिल्ली सरकार को करारी फटकारी लगाई है I सुप्रीमकोर्ट ने सोमवार को आज दिल्ली सरकार की याचिका पर पहले तो सुनवाई करने से ही साफ़ मना कर दिया था लेकिन बाद दिल्ली सरकार के वकील की मिन्नतों के बाद सुनवाई पर हामी भरी I लेकिन मुद्दे की सुनवाई से पहले ही सुप्रीमकोर्ट ने दिल्ली सरकार की जमकर इस मामले में खिंचाई की I

दिल्ली सरकार को सुप्रीमकोर्ट ने लगाई लताड़ –
आपको बता दें कि दिल्ली में जल संकट होने के चलते दिल्ली सरकार ने बिना कुछ किये सीधे सुप्रीमकोर्ट का रुख कर लिया था I आज इसी मामले में सुप्रीमकोर्ट में सुनवाई होनी थी I सुप्रीमकोर्ट ने मामले में दिल्ली सरकार को लताड़ते हुए कहा है कि, “आप लोग अपने दफ्तर में बैठे रहते है, आपको जिन मुद्दों को खुद से सुलझाना चाहिए आप उन मुद्दों पर भी बिना कुछ किये सीधे ही कोर्ट की तरफ चल देते है I अदालत ने कहा है कि इस तरह के सभी मुद्दे राजनैतिक स्तर पर सुलझाने चाहिए इसमें कोर्ट की कही भी कोई आवश्यकता नहीं है I अदालत ने दिल्ली सरकार को और अधिक लताड़ते हुए कहा है कि हम देख रहे है कि दिल्ली सरकार हर एक छोटे-छोटे मुद्दों पर भी कोर्ट का रुख कर लेती है I जो बिलकुल भी ठीक नहीं है I आपको अपने दफ्तर से बाहर निकलकर मुद्दों को सुलझाना होगा I”

इसे भी पढ़ें – अपने गुणगान के लिए 526 करोंड़, गरीब मजबूर जनता की सेलरी देने के लिए दिल्ली सरकार के पास फंड नहीं

अगली सुनवाई 24 को –
सुप्रीमकोर्ट ने पहले तो इस मामले को सुनने से ही साफ़ मना कर दिया था लेकिन बाद में दिल्ली सरकार के वकील की मिन्नतों पर कोर्ट ने हामी भरी और हरियाणा तथा केंद्र सरकार से 2 दिन के भीतर कोर्ट को रिपोर्ट देने के लिए कहा है I अब इस मामले में अगली सुनवाई 24 फरवरी को होनी है I

हरियाणा सरकार ने दिया जवाब कहा, दिल्ली सरकार को है सब पता –
हालांकि सुनवाई के दौरान हरियाणा सरकार ने दिल्ली सरकार के रवैये पर कहा कि दिल्ली सरकार को सब पता है। मुनक नहर पर सेना ने हरियाणा के मंडौरा से लोगों को हटा दिया है और पानी शुरू हो चुका है। रविवार की सुबह चार बजे से ही सेना ने ऑपरेशन शुरू कर दिया था। आज शाम तक दिल्ली में पानी आ जाएगा।

इसे भी पढ़ें – आयोग ने दिया दिल्ली सरकार को सख्त आदेश, एक सप्ताह के भीतर कर्मचारियों का वेतन देने के दिए निर्देश

क्या था पूरा मामला –
आपको ज्ञात हो कि हरियाणा में पिछले कुछ दिनों से भीषण जाट आंदोलन चल रहा है I इसी जाट आंदोलन के चलते दिल्ली को जिस मुनक नहर से पानी की सप्लाई हो रही थी वह बंद कर दी गयी थी I दिल्ली में जल संकट को देखते हुए दिल्ली सरकार ने सुप्रीमकोर्ट में एक याचिका दायर करके उक्त मामले में निर्देश जारी करने की अपील की थी I हालाँकि आपको बता दें कि इस मामले में पहले ही सेना ने हरियाणा की उस मुनक नहर को आंदोलनकारियों से मुक्त करवा दिया था I और दिल्ली की तरफ आने वाले पानी को छोड़ दिया गया है I

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here