गोरखपुर में मेट्रो रेल परियोजना के लिए सर्वे को हरी झंडी

0
188
प्रतीकात्मक

गोरखपुर(ब्यूरो)- गोरखपीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने के लगभग दो सप्ताह बाद ही गोरखपुर में मेट्रो रेल परियोजना के लिए पहली सौगात मिली है| इस परियोजना को लेकर प्रस्ताव तो काफी पहले से मागें जा रहे थे लेकिन शासन स्तर से अधिकारिक तौर पर आज इसका सर्वे शुरू करने की हरी झंडी मिल गई है| शासन ने गोरखपुर विकास प्राधिकरण की सर्वे कार्य का नोडल विभाग बनाया है|

लखनऊ मेट्रो रेल कारपोरेशन इस परियोजना का समन्वयक होगा| महानगर की भौगोलिक स्थिति के अध्ययन, परियोजना पर आने वाले खर्च और मेट्रो के गुजरने वाले क्षेत्र की विस्तृत रिपोर्ट करने के निर्देश जारी कर दिये गये है| यह योगी के सूबे की कमान संभालने का ही परिणाम है कि शासन ने उनके शहर गोरखपुर की बढ़ती जनसंख्या और वाहनो के बढ़ते दबाव की समस्या को दूर करने के लिए यहां पब्लिक ट्रांसपोर्ट प्रणाली विकसित करने का फैसला लिया है शासन का मानना है कि शहर के वर्तमान मार्गो की चौड़ाई बढ़ाने की संभावनाएं बेहद कम है एेसे मे सुव्यवस्थित व तीब्र गति से अवरोध विहीन प्रणाली का विकास यहां जरूरी है|

सर्वे रिपोर्ट तैयार करने की जिम्मेदारी भारत सरकार की अनुभवी व विशेषज्ञ संस्था राइटस् को सौपी गई है दरअसल पिछले हफ्ते मुख्यमंत्री जब गोरखपुर आये थे तो मेट्रो रेल की संभावनाए तलाशने के लिए भारत सरकार की एक टीम ने महानगर के विभिन्न हिस्सो का दौरा भी किया था| जीडीए उपाध्यक्ष ओ.एन.सिंह ने बताया कि मेट्रो रेल परियोजना गोरखपुर के लिए सौगात है इससे यातायात सुगम हो जायेगा|

रिपोर्ट- जयप्रकाश यादव

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY