नस्लीय टिप्पणी मामले में सुषमा स्वराज अधिकारी की ओर से मांगी माफ़ी, कहा देश के नागरिकों से अभद्रता बर्दाश्त नहीं |

0
214

Indian Foreign Minister Sushma Swaraj attends a news conference after the 13th Russia-India-China Foreign Ministers' Meeting, at Diaoyutai State Guesthouse in Beijing

दिल्ली के अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे इंदिरा गाँधी इंटरनेशनल एअरपोर्ट पर मणिपुर की एक लड़की के साथ नस्लीय टिप्पणी का मामला सामने आया है, IGI एअरपोर्ट पर एक इमिग्रेशन ऑफिसर ने पासपोर्ट चेक करते समय लड़की पर नस्लीय टिप्पणी करते हुए कहा ‘भारतीय हो ?’ लड़की ने कोई जवाब नहीं दिया उसने फिर कहा ‘पक्का भारतीय हो ?’

लड़की ने अपनी फेसबुक पोस्ट के ज़रिये ऑफिसर की इस हरकत का विरोध किया साथ ही लोगों से यह सलाह भी मांगी कि ऐसे में उसे क्या करना चाहिए ?

मणिपुर की मोनिका ने अपनी पोस्ट में लिखा
एक बार फिर मुझे इमिग्रेशन डेस्क पर नस्लीय टिप्पणी का शिकार होना पड़ा, उस इमिग्रेशन अधिकारी ने मेरा पासपोर्ट देखा और एक कुटिल मुस्कान के साथ कहा भारतीय तो नहीं लगती हो, पक्का भारतीय हो ?” मैंने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी मुझे बुरा तब लगा जब उसने कहा तुम्हे तुम्हारी भारतीयता जाननी चाहिए, भारत में कितने राज्य हैं ? मैंने उससे कहा मुझे देर हो रही है वह फिर भी नहीं रुका और बोला “नहीं नहीं बोलो बोलो” हारकर मैंने उसे जवाब दिया और फिर उसने आगे बोलना शुरू किया “कहाँ से हो ?” मैंने कहा मणिपुर और फिर तो बताओ मणिपुर कितने राज्यों के अपनी सीमा साझा करता है उनके नाम बताओ मैंने उसे इग्नोर करने की कोशिश की पर वह नहीं रुका और बोला हवाई जहाज आपको छोड़कर नहीं जायेगा, आराम से जवाब दो” मैंने कभी इतना बुरा महसूस नहीं किया |

लड़की के इस पोस्ट के बाद मामला सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट करके अधिकारी की इस अभद्रता के लिए क्षमा मागी है और दोषी के विरुद्ध करवाई का आश्वासन दिया है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेजऔर आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY