गौतम बुद्ध नगर में सफाई कर्मी उड़ा रहे स्वच्छता अभियान की धज्जियाँ

0
86

गौतमबुद्ध नगर : एक तरफ़ जहाँ योगी और मोदी सरकार स्वच्छता को लेकर देश को जागरूक कर रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ़ उनके ही सरकारी अफ़सर सरकार के इस स्वच्छ भारत मिशन की मिट्टी पलीत करने में लगे हैं, सरकार के द्वारा स्वच्छ भारत मिशन पर करोड़ों रुपए ख़र्च किए जाने के बाद भी सरकारी नौकरशाहों और लापरवाह सफ़ाई कर्मचारियों की मिली भगत के चलते सड़क किनारे जगह- जगह गंदगी के ढेर लगे हुए हैं और नालियाँ जाम हैं । कुछ जगहों पर तो साँस लेना भी दूभर हो जाता है ।

गौतम बुद्ध नगर के छलेरा में भी कुछ ऐसा ही नज़ारा देखने को मिला, इलाक़े जगह -२ कूड़े के ढेर लगे हुए हैं, और नाली गन्दगी के चलते बजबजा रही है । स्थानीय लोगों ने बताया कि सफ़ाई के नाम पर सिर्फ़ खाना पूर्ति ही होती है । होटलों और दुकानों का कचरा बड़ी मात्रा में नालियों में डाला जाता है पर प्रशासन द्वारा इन होटलों और दुकानों के ख़िलाफ़ कोई कार्यवाही नहीं की जाती है । इलाक़े में इस हालत के लिए कहीं न कहीं स्थानीय लोग भी ज़िम्मेदार हैं पर ऐसे में प्रशासन और अधिकारी अपनी जिम्मदारियों से भाग नहीं सकते ।

गाँवों में तो सरकार स्वच्छ भारत अभियान को बढ़ावा देने लिए शौचालय बनवा रही है ना जाने कितने ही तरीक़ों से आम जनता के पैसों को स्वच्छ भारत अभियान में पानी की तरह बहा रही है पर विभागीय अधिकारियों और कर्मचारियों की यह लापरवाही शायद ही स्वच्छ भारत के सपए को पूरा होने देगी ।

रिपोर्ट- अजय सिंह 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here