तालिबानी गोलियों से एक बार फिर थर्राया काबुल

0
178

काबुल- अफगानिस्तान की राजधानी काबुल उस वक्त एक बार फिर थर्रा उठी जब राजधानी के सबसे सुरक्षित माने जाने वाले राजनयिक इलाके में घुसकर स्पेन के दूतावास के ठीक सामने एक कार को बम से उड़ा दिया गया I

आपको बता दें कि वैसे तो इस हमले में अभी तक केवल एक ही व्यक्ति की म्रत्यु की सूचना है जो कि एक स्पेनिश पुलिस सर्विस से था लेकिन इस वारदात ने एक बार फिर अफगानिस्तान में तालिबान के वजूद को और उसकी प्रवृत्ति को उजागर कर दिया है I

आपको ज्ञात होना चाहिए कि तालिबान ने अपने इस हमले को ऐसे नाजुक समय में अंजाम दिया है जब अफगानिस्तानी सरकार काफी समय से ठन्डे बस्ते में पड़ी इन विद्रोहियों के साथ अपनी बातचीत की प्रक्रिया को आगे बढाने का निर्णय लिया है I अफगान सरकार आजकल जहाँ एक ओर इन विद्रोहियों के साथ पुनः शांति वार्ता स्थापित करने के लिए कदम बढा रही है वही दूसरी ओर यह विद्रोही इस तरह के धमाके कर के सरकार के सभी किये धरे पर पानी फेरते हुए दिखायी दे रहे है I

प्राप्त सूचना के आधार पर बताया जा रहा है कि जब यह हमला हुआ तो सबसे पहले यह बताया गया था कि यह हमला स्पेनिश दूतावास को निशाना बनाकर किया गया है लेकिन बाद में स्पेन के प्रधानमंत्री मारियानो राजोय ने इस बात का खुलासा कर दिया कि यह हमला स्पेनिस दूतावास को निशाना बनाकर नहीं बल्कि उसके नजदीक स्थित ही एक विदेशी गेस्टहाउस को बनाकर किया गया था I

राजोय ने इस की भी पुष्टि की है कि जिस व्यक्ति की इस हमले में पुष्टि हुई है वह एक स्पेनिश पुलिस सर्विस का ही जवान था I बाद में तालिबान की तरफ से जारी बयान में हमले की जिम्मेदारी ली गयी है और इस बात की भी पुष्टि की गयी है की स्पेनिश दूतावास निशाने पर नहीं था निशाने पर उसके नजदीक स्थित ही एक विदेशी गेस्टहाउस को बनाकर किया गया था I

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

2 × 1 =