तमिलनाडु में एक बार फिर गहराया राजनैतिक संकट, पन्नीरसेल्वम से मिले मौजूदा मंत्री

0
75

चेन्नई/नई दिल्ली- तमिलनाडु में एक बार फिर राजनीतिक संकट गहराता नजर आ रहा है। तभी तो इन दिनों सत्ता पर काबिज सीएम पलानीस्वामी के माथे पर चिंता की रेखाएं उभरने लगी है। हाल ही खबर सामने आई कि पलानीस्वामी सरकार में शामिल कुछ मंत्रियों और वरिष्ठ नेताओं ने पूर्व सीएम पन्नीरसेल्वम से मुलाकात की है।

रविवार को हुई इस मुलाकात के मामले अभी कोई स्पष्ट जानकारी सामने तो नहीं आ पाई फिर भी राजनीतिक पंडित यह कयास लगा रहे हैं कि तमिलनाडु की राजनीति में एक बार फिर उठापठक देखने को मिल सकती है। वहीं पन्नीरसेल्वम गुट के सूत्रों ने बताया कि टीटीवी दिनाकरण कैंप में ओर विद्रोह हो सकता है। इसकी पूरी आशंका है।

हालांकि पन्नीरसेल्वम ने बताया कि जून में एआईएडीएमके संस्थापक एमजी रामचंद्रन की जन्मशताब्दी के लिए एक भव्य उत्सव की कार्ययोजना बनाई है। इस बैठक के दौरान वरिष्ठ नेता ई मधुसूदन, पूर्व मंत्री पांडारीजन, एमपी वी मैत्रेययन, पूर्व मंत्री केपी मुनसुमा, पूर्व विधायक जेडी प्रभाकर, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष रहे पीएच पांडियन प्रमुख रुप से शामिल हुए।

यह संभावना जताई जा रही है कि आयकर विभाग ने जिस लिहाज से लगातार छापों की कार्रवाई की है उसेक बाद कुछ ओर नेता पाला बदल सकते हैं। कयास लगाए जा रहे हैं कि आने वाले दिनों में कुछ वरिष्ठ मंत्री व शशिकला गुट के अन्य नेता इस मामले में पलटी मार सकते हैं। गौरतलब है कि एआईएडीएमके महासचिव टीटीवी दिनाकरण के खिलाफ दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने पार्टी के निशान दो पत्ती देने के लिए दी गई घूस के आरोप में मामला दर्ज कर लिया। जिससे अब राजनीतिक हालात बदल सकते हैं।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY