कर विधान विषयक व्याख्यान का आयोजन विद्यापीठ में

0
136


चाँदमारी वाराणसी : शनिवार को महात्मा गाँधी काशी विद्यापीठ के विधि विभाग की लाइब्रेरी में “बजट 2017 एवं कर विधान” विषयक विशिष्ट व्याख्यान का आयोजन किया गया l व्याख्यान में बतौर मुख्य वक्ता आल इंडिया फेडरेशन आफ टैक्स प्रैक्टिशनर्श के जनरल सेक्रेटरी नारायण पी. जैन ने छात्रों को सम्बोधित करते हुए भारत में टैक्स कानूनों में सरलता एवं पारदर्शिता लाने की वकालत की l

उन्होंने कहा की हमारे देश के लोग आयकर विभाग का नाम सुनकर ही डर जाते हैं जबकि सरकार को यह सुनिश्चित करना चाहिये की वह जनता को टैक्स अदा करने के पीछे की अच्छाइयो को समझाये ताकि लोग टैक्स चोरी करने की बजाय टैक्स का ईमानदारी से भुगतान करें l उन्होंने देश की जनता को टैक्स के भुगतान करने के लिये प्रेरित करने के लिये तथा उनका व्यवहार परिवर्तन के लिये जागरूकता कार्यक्रम चलाने की सलाह दी ताकि लोग टैक्स के फायदे को समझ सकें l

उन्होंने जहाँ नोटबंदी को जल्दबाजी में लिया गया फैसला बताया तो वहीं वर्तमान बजट के प्रावधानों की सराहना भी की l उन्होंने टैक्स सम्बन्धी कानूनों को भ्रष्टाचार के लिये जिम्मेदार बताते हुए केन्द्र सरकार के फैसलों से कालेधन जमा करने वालो की संख्या में बढ़ोत्तरी होने का अंदेशा जताया और कहा की देश में डिजिटल करेंसी की व्यवस्था करने से पहले देश को इसके लिये तैयार करने की बात कहीँ l कार्यक्रम की शुरुआत अतिथियों को शाल एवं स्मृति चिन्ह देने के साथ ही शिव प्रसाद गुप्त एवं महात्मा गाँधी के चित्रों पर माल्यार्पण करने के साथ हुआ l कार्यक्रम की अध्यक्षता कुलपति डा. पृथ्वीश नाग ने किया, अतिथियों का स्वागत विधि विभाग के विभागाध्यक्ष डा. चतुर्भुज नाथ तिवारी ने तो धन्यवाद डा. एस बी सिंह ने किया l कार्यक्रम का संचालन आयोजन सचिव डा. रंजन कुमार ने किया इस मौके पर डा. केसरीनँदन शर्मा,डा. हंसराज,डा. राम जतन,डा. अनिल चौधरी,डा. शिव प्रकाश मिश्रा समेत विधि विभाग के छात्र मौजूद रहे l

रिपोर्ट–नागेन्द्र कुमार यादव

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here