राजकीय आईटीआई में आयोजित हुआ तकनीकी रोजगार मेला

0
81

बहराइच(ब्यूरो)- पं0 दीनदयाल उपाध्याय जी के जन्म शताब्दी वर्ष के उपलक्ष्य में राजकीय आईटीआई बहराइच परिसर में आयोजित तकनीकी रोजगार मेला को संबोधित करते हुए डिप्टी कलेक्टर अरूण कुमार गौड़ ने कहा कि तकनीकी शिक्षा बेरोजगारी दूर करने का ऐसा माध्यम है जिसमें दक्षता प्राप्त कर लेने के बाद कोई भी युवा बेरोजगार नहीं रह सकता है। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों तथा उप्र कौशल विकास मिशन के माध्यम से सरकार द्वारा व्यापक स्तर पर बेराजगार युवकों को तकनीकी कौशल में दक्ष बनाने का कार्य किया जा रहा है।

तकनीकी रोजगार मेले में सेवायोजक कम्पनियों द्वारा लगाए गये स्टालों पर राजकीय आईटीआई और कौशल विकास मिशन के अन्र्तगत प्रशिक्षण प्राप्त कर चुके अभ्यर्थियों का साक्षात्कार हेतु आने का सिलसिला देर शाम तक चलता रहा है। राजकीय आईटीआई के प्रधानाचार्य एके त्रिपाठी ने बताया कि रोजगार मेले में विनुथना फर्टीलाईजर्स, काॅफी कैफे डे, कम्पास ग्रुप, हुण्डई, टाटा मोटर्स जैसे प्रतिष्ठित कम्पनियों के प्रतिनिधियों द्वारा प्रतिभाग किया गया, जिसमें राजकीय आईटीआई और कौशल विकास मिशन से प्रशिक्षण प्राप्त 76 अभ्यर्थियों का चयन किया गया। मेले में लगभग 286 अभ्यर्थियों द्वारा प्रतिभाग किया गया।

रोजगार मेले का संचालन करते हुए कौशल विकास मिशन के एमआईएस प्रबन्धक खजांची लाल यादव ने प्रतिभागियों को प्रधानमंत्री मुद्रा कोष की जानकारी देते हुए कहा कि ऐसे युवा जो अपना स्वरोजगार स्थापित करना चाहते है, उन्हें इस कोष के माध्यम से बैंकों द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। रोजगार मेला के सफल आयोजन में संस्थान के फोरमैन ज्वाला प्रसाद, वरिष्ठ अनुदेशक रामतेज, अनुसूईया पाण्डेय, अंजुम इफ्तिखार, वरिष्ठ सहायक डी0के0 त्रिपाठी, अनुदेशक श्याम सुन्दर खण्डेलवाल, शिवकुमार, ख्वाजा आमिर अहमद, प्रणव प्रकाश सिंह, प्रवीन कुमार, पीयुष तिवारी, अभिषेक श्रीवास्तव, राहुल वाजपेई, आरती हाण्डा, कु0 रजनी, संगीता भारती सहित अन्य संस्थान के स्टाफ द्वारा सक्रिय सहयोग प्रदान किया गया।

रिपोर्ट- राकेश मौर्या

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY