छत्तीसगढ़ से महाराष्ट्र हो रही तेंदूपत्ता तस्करी, अवैध तेंदूपत्ता परिवहन करते दो वाहन पकड़ाये, अंबागढ़ चौकी वन विभाग की कार्यवाही

0
268


अंबागढ़ चौकी : मुखबिर की सुचना पर वन विभाग अंबागढ़ चौकी की टीम ने 19 मई को लगभग रात 8 और 9 बजे के बीच एक वाहन ग्राम हेमलकोड़ो के पास और दूसरा वाहन वेदकाठी ,डूमरघुचा नाला के पास अवैध तेंदूपत्ता से भरा हुआ पकड़ा ।यह कार्यवाही एसडीओ वन विभाग आर.के.गजभिये और रेंजर संदीप सिंह के आदेश पर की गई । वन विभाग की टीम ने दो पिकप(छोटा हाथी)जिनका नंबर CG08L2100 इसमें 7250 तेंदूपत्ता गड्डी और दूसरा पिकप जिनका नंबर MH36F 0717इसमें 6055 गड्डी भरी हुई थी । इस तेन्दूपत्ते की कीमत लगभग 25 हजार बताई जा रही है ।वही इस तेन्दूपत्ता की कीमत महाराष्ट्र में लगभग एक लाख बताया जा रहा है। इन दोनों वाहनो में भरे अवैध तेन्दूपत्ता को पकड़ने में वन विभाग की टीम में डिप्टी रेंजर अशोक गढ़पाले ,मेहतू राम कंवर , वन रक्षक रामजी लाल उसारे ,प्रियंका ठाकुर ,खेमचन्द देसलहरा तथा प्राथमिक वनोपज समिति के प्रबंधक यसवंत वर्मा एवं चिंता राम मंडावी ने अहम भूमिका निभाते हुए इस तेंदूपत्ता तस्करी को पकड़ा । कि यह तेंदुपत्ता छत्तीसगढ़ से मिस्प्री और घुघवा( महाराष्ट्र )जा रहा था ।

सूत्रों द्वारा जानकारी मिली कि महाराष्ट्र के तेंदूपत्ता तस्कर लगातार छत्तीसगढ़ सीमा के आसपास के गांव में घूम घूम कर भोले भाले ग्रामीणों को ज्यादा पैसो का लालच दे कर यह हरा सोना उनसे लेते है , इस हरे सोने की महाराष्ट्र में भारी कीमत बताई जा रही है। छत्तीसगढ़ में सौ गड्डी तेंदूपत्ता का मूल्य लगभग 170 रूपये है और महाराष्ट्र में इसी का मूल्य लगभग 750 रूपये है, इसी का फायदा उठा कर तेंदूपत्ता तस्कर लोग छत्तीसगढ़ की सीमा में घुस कर यह हरा सोना ग्रामीणों से खरीद रहे है।

रिपोर्ट – हरदीप छाबड़ा

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY