दरोगा की मौत की खबर से हडकंप

0
125


पुरवा (उन्नाव ब्यूरो) : कोतवाली से अलग किराय के कमरे में रह रहे एक दरोगा की मौत की खबर सुनते ही कोतवाली व क्षेत्राधिकारी कार्यालय में मचा हड़कम सूचना पाते ही कोतवाली प्रभारी सहित पूरे थाने का अमला मौके पर पहुंचंा जहां कोतवाली प्रभारी ने उच्चाधिकारियों को घटना क्रम से अवगत कराते हुये परिजनो को सूचना दी सूचना पाते ही अपर पुलिस व उपजिलाधिकारी तथा क्षेत्राधिकारी भी मौके पर पहुंचे जहां अपर पुलिस अधीक्षक ने शव तथा कमरे का बारीकी से निरीक्षण किया जहां हृदय गति रूकने से मौत होने का अनुमान लगाया जा रहा है वही कोतवाली पुलिस ने परिजनो के आते ही शव को कब्जे लेकर पोस्टमार्टम हेतु ले गयी।

प्राप्त विवरण के अनुसार 58 वर्षीय एच.पी.सी. दरोगा गौस मो0ेेखान पुत्र मो0 यूनुस खान निवासी ग्राम पलिया पूरब मुसाफिर खाना जनपद अमेठी लगभग दो वर्षों से कोतवाली में तैनात थे इसके पूर्व लगभग 12 वर्ष पूर्व इसी कोतवाली में का0टेबिल के पद पर भी रहे है गौस मोहम्मद खान लगभग 10 वर्षों से इसी जनपद में पुलिस की नौकरी को अन्जाम देते रहे। गौस मोहम्मद खान सिपाही के पद पर पुरवा, सोहरामऊ, बीघापुर, बारा सगवर आदि थानो पर रहे बीच में कुछ समय जनपद रायबरेली के थाना खिरो में भी रहे उसके बाद उन्नाव की बांगरमऊ कोतवाली आये जहां इनका प्रमोषन हुआ और दरोगा बने पर गौस मो0 खान कोतवाली से लगभग एक किलो मीटर दूरी पर पुरवा मौरावां मार्ग पर स्थित पीराषाह पुरवा में मो0 सलाम पुत्र स्व0 हाजी गुलाम वारिस निवासी ग्राम चमियानी के मकान के ऊपरी कमरे में रहते रहे पूरे मकान में एक कमरे में गौस मोहम्मद अकेले ही रहते थे अभी हाल में 9 अप्रैल 17 को इनके पुत्र की शादी थी शादी करके ही आये थे प्रत्यक्ष दषीयो के अनुसार गौस मो0 खान रात तीन बजे तक कस्बे की गस्त में थे नगर के मोहल्ला शीतलगंज में जवाबी कीर्तन था वहां भी देर रात इन्हे देखा गया वही बृहस्पतिवार की रात में पुरवा अचलगंज मार्ग कोतवाली से लगभग 1500 मीटर की दूरी पर स्थित हजरत हकीम शाह रहमातुल्ला अलैह का सालाना उर्स के मौके पर जवाबी कौवाली का आयोजन था वहां पर भी इन्हें देखा गया रात ड्यूटी करने के बाद साढ़े तीन बजे यह अपने कमरे पर पहुंचे और सो गये नीचे के दुकान के बच्चो से कह रखा था कि शुक्रवार के दिन हमें 12 बजे तक हर हाल में जगा देना क्यों कि जुम्मे की नमाज वही पीराषाह जामा मस्जिद में पढ़ते थे। सुबह दूध वाला आया और वह दूध रखकर वापस चला गया तभी समय लगभग 12 बजे नीचे के दुकान के बच्चों ने आवाज लगानी शुरू की ना जागने पर एक बच्चा ऊपर कमरे में जगाने गया न उठने पर बच्चे ने आकर नीचे बताया तो लोगो ने जाकर देखा तो दरोगा गौस मो0 खान अपने बिस्तर पर मृत पड़े थे। इस बात की सूचना जैसे ही कोतवाली पहुंची तो कोतवाली प्रभारी अरविन्द सिंह कस्बे के दरोगा जय प्रकाष सिंह, एस0एस0आई0 रणधीर सिंह चैहान, दरोगा षिवनरेष सिंह, दरोगा योगेस सिंह तथा कोतवाली का पूरा अमला अन्न फान्न मौके पर पहुच गया जहां कोतवाली प्रभारी ने उच्चाधिकारियों को तथा परिजनो को सूचना दी। सूचना मिलते ही उप पुलिस अधीक्षक सुषील कुमार सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक रामसेवक गौतम, एस0डी0एम0 राज मुनि यादव मौके पर पहंुचे जहां बारीकी से निरीक्षण करने के बाद आगे की कार्यवाही का निर्देष दिया मृतक गौस मो0 खान अपने पिता से तीन भाई थे जिसमें माझिल थे तथा अपने पीछे पत्नी व तीन पुत्र वसीम, फहीम, समीम तथा दो पुत्रियां रूही बेगम, फरीन बेगम दोनो की शादी कर दिया था जो अपने अपने घरो में रह रही है।

रिपोर्ट – मोहम्मद अहमद चुनई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here