संदिग्ध गौ तस्करी को लेकर पुलिस और बीजेपी समर्थकों के बीच मुठभेड़, गोली लगने से एक की मौत

0
290

ballia-lathicharge
उत्तर प्रदेश के बलिया में शुक्रवार को गाय तस्करी के संदिग्ध मामले में पुलिस और बीजेपी नेता तथा उनके समर्थकों के बीच हुए विवाद में बीजेपी पक्ष के एक व्यक्ति की मौत हो गयी, जबकि कुछ लोग घायल हो गए |

यूपी के बलिया में पुलिस ने एक छोटा ट्रक बरामद किया जिसमें सात गायों को कहीं ले जाया जा रहा था, पोलिस का कहना है कि ट्रक ड्राईवर के पास उचित कागज नहीं थे, और गायों को ले जाने के सम्बन्ध में भी उचित कागज उपलब्ध नहीं थे, पुलिस का कहना है कि जब गाड़ी को पकड़ा गया तो ड्राईवर गाड़ी को छोड़कर भाग गया |

पुलिस द्वारा गाड़ी के पकड़े जाने के बाद बीजेपी विधायक उपेन्द्र तिवारी अपने समर्थकों के साथ पुलिस स्टेशन पहुँच गए, बीजेपी विधायक का दावा है कि विनोद यादव नाम के गाँव वाले ने स्तःनीय मेले से गायें खरीदी थीं, और इन्हें ले जाने के लिए आवश्यक कानूनी दस्तावेज मौजूद थे, इसके बावजूद पुलिस ने ड्राईवर को पीता और उससे पचास हज़ार रूपये भी छीन लिए |

बीजेपी नेता ने कहा पुलिस स्टेशन पहुँचने के बाद पुलिस अधिकारी ने मुझे भी धम्य और कार्यवाही की धमकी दी, सभी कागज़ होने के बावजूद पुलिस ने जानवरों को छोड़ने से इनकार कर दिया, जिसके चलते दोनों पक्षों के बीच मारपीट हो गयी पुलिस ने लाठी और आंसू गैस का प्रयोग किया इस मुठभेड़ में बीजेपी समर्थक विनोद राय को पुलिस की गोली लगी है, हालांकि पुलिस ने ऐसे सभी आरोपों से इनकार किया है |

पुलिस अधिकारी मनोज कुमार झा कहते हैं ‘पुलिसकर्मियों को पत्थरों से मारा गया इसलिए लाठी चार्ज का सहारा लेना पड़ा. हम सही कागज़ात दिखाए जाने पर गायों को उनके हवाले करने के लिए तैयार थे लेकिन वह ऐसा करते दिखाई नहीं दिए,’ बलिया में हालात पर काबू पाने के लिए अन्य जिलों से अतिरिक्त बल भेजा गया है लेकिन पुलिस का कहना है कि परिस्थिति काबू में है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here