ISIS की मदद से भागने की फिराक हैं इंडियन मुजाहिद्दीन का सरगना आतंकी यासिन भटकल

0
394
yasin bhtkal (photo credit -www.jagran.com)
yasin bhtkal (photo credit -www.jagran.com)

भारत की कैद से फरार होने की तैयारी में जुटा हुआ हैं इंडियन मुजाहिद्दीन का सरगना यासिन भटकल, एक अखबार में छपी खबर के मुताबिक देश के इस कुख्यात आतंकी यासिन भटकल ने जो कि आजकल हैदराबाद की जेल में बंद हैं जेल से ही अपनी पत्नी को 10 बार फ़ोन किये और उसने वहां से केवल एक ही बता कहीं की वह जल्द ही भारत की कैद से फरार हो जायेगा और आपको बता दें की इस काम में उसकी पूरी मदद दुनिया का सबसे खूंखार आतंकी संगठन ISIS कर रहा हैं I

इन सभी बातों की जानकारी तब प्राप्त हुई जब यासिन भटकल ने जेल से अपनी पत्नी को फोन किया और उसके बाद सुरक्षा एजिंसियों ने जब उसकी बातों को इंटरसेप्ट किया तब इस बात की जानकारी प्राप्त हुई I प्राप्त जानकारी के अनुसार भटकल ने इसी बात चीत के दौरान यह भी कहा की उसकी मदद दमिश्क के लोग कर रहे हैं I आपको ज्ञात हो कि दमिश्क सीरिया की राजधानी हैं और सीरिया का ज्यादातर हिस्सा अभी भी इस खूंखार आतंकी संगठन ISIS के कब्जे में हैं I

हैदरबाद पुलिस और सुरक्षा एजिंसियों ने इस जानकारी के बाद जेल की सुरक्षा को और अधिक मजबूत कर दिया हैं, और भटकल के ऊपर विशेष नजर रखी जा रही हैं I

कौन हैं यह यासिन भटकल –

आपको बता दें कि यासीन भटकल भारत के ही कर्नाटक राज्य का निवासी हैं, इसका जन्म 15 जनवरी 1983 में हुआ था, इस आतंकी ने 10 तक की पढ़ाई की हैं लेकिन दंसवी पास न कर पाने की वजह से यह काम के सिलसिले में दुबई चला गया और वहां से फिर अचानक ही गायब हो गया I ऐसा इसके माता-पिता कहते हैं I

बाद में उसने दिल्ली की एक लड़की एकता के साथ विवाह कर लिया और उसे इसने यह बताया था कि उसका नाम इमरान हैं और वह लखनऊ का रहने वाला हैं I

एन.आई. ए. की टॉप लिस्ट में था यह आतंकी –

आपको बता दें कि जब तक यह पकड़ा नहीं गया था तब तक यह यह एन.आई. ए. की लिस्ट में सबसे टॉप पर था और इसे एन.आई. ए. ने 28 अगस्त 2013 को नेपाल बॉर्डर से गिरफ्तार किया था I तब से लेकर अभी तक यह हैदरबाद की जेल में बंद हैं I

क्या हैं इसका अपराध –

एन.आई. ए. द्वारा पकडे जाने के बाद यासिन भटकल ने बड़े -बड़े खुलासे किये जिनमें से इसने जयपुर में हुए सीरियल ब्लास्ट में अपना नाम बाताया था जिसमें 60 लोग मारे गए थे I वर्ष 2010 में पुणे की जर्मन बेकरी में हुए बमब्लास्ट में भी इसी कुख्यात आतंकी का हाथ था जिसमें 17 लोगों की जान गयी थी I और इसीने भारत के खिलाफ आतंकी गतिविधियों को चलाने के लिए इन्डियन मुजाहिद्दीन नामक आतंकी संस्था की शुरुआत की थी I

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

nineteen + five =