पाक पर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अलग-थलग होने का खतरा बढ़ा, आतंकी ने कबूली पाक आर्मी द्वारा ट्रेनिंग की बात…

0
2190

kayum

भारत पर मानवाधिकार हनन का आरोप लगाने और खुद को आतंक का शिकार बताने वाले पाकिस्तान का चेहरा बेनकाब करने के में भारतीय सेना को बड़ी सफलता मिली है, सरहद पार से घुसपैठ करते वक़्त पकडे गए पाकिस्तानी आतंकवादी अब्दुल कयूम ने पूछ-ताछ के दौरान कई बड़े खुलासे किया हैं, इस पूछताछ में कयूम ने माना कि वह एक आतंकवादी है और उसे पाकिस्तानी सेना द्वारा ट्रेनिंग दी गयी है साथ ही उसने यह भी कुबूल किया है कि वह लश्कर के लिए फंड जुटाता है | कयूम के इस कुबुल्नामे के बाद अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पाकिस्तान की स्थिति और भी ख़राब हो सकती है |

भारत-पाक बॉर्डर के पास सीमापार से घुसपैठ की कोशिश में पकडे गये कयूम की उम्र 30 साल है, घुसपैठ के वक़्त कयूम के के साथ उसके साथी भी थे पर अलार्म बजने के बाद वो पाकिस्तान की ओर भाग निकले |

गिरफ्त में आए आतंकी ने बीएसएफ को बताया कि वह पाकिस्तान के सियालकोट का रहने वाला है, पाकिस्तान के शेखुपुरा जिले के मुरीदके में उसकी ट्रेनिंग हुई है, गौरतलब है कि जमात-उत-दावा का ट्रेनिंग हेड क्वार्टर मुरीदके में ही है. आतंकी से बीएसएफ की पूछताछ जारी है |

आपको बता दें कि उरी हमले को लेकर पाक पीएम नवाज़ शरीफ ने कहा है कि यह हमला भारत द्वारा कश्मीर में की जा रही क्रूरता की प्रतिक्रिया है और साथ ही यह भी कहा है कि भारत में होने वाली किसी भी आतंकी घटना के लिए पाकिस्तान को जिम्मेदार ठहराना भारत की आदत बन गयी और वह बिना किसी ठोस आधार के ऐसे आरोप लगता रहता है, पर कयूम के इस कबुल्नामे के बाद पाक मुश्किल में पद सकता है और आतंकवाद के मसले पर पूरी दुनिया का विरोध झेल रहे पाक पर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अलग-थलग होने का खतरा बढ़ गया है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY