केन्द्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री, श्री थावरचंद गहलोत ने अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजातियों के मेधावी छात्रों को सम्मानित किया |

0
331

The Union Minister for Social Justice and Empowerment, Shri Thaawar Chand Gehlot gave away the Dr. Ambedkar National Merit Award and Essay Competition-2015, in New Delhi on February 03, 2016. 	The Ministers of State for Social Justice & Empowerment, Shri Krishan Pal and Shri Vijay Sampla are also seen.

केंद्रीय सामाजिक न्‍याय एवं अधिकारिता मंत्री और डॉ. अंबेकर फाउंडेशन के अध्‍यक्ष श्री थावरचंद गहलोत ने आज यह बताया कि छात्रों का कहना है कि सूचना प्रौद्योगिकी के इस युग में हमें बहुत सतर्क और जागरूक रहने की जरूरत है।

सूचना एक शक्ति है, जिसकी हर छात्र को उपयोग करने की जरूरत है, लेकिन साथ ही साथ हमें सतर्क भी रहना चाहिए, ता‍कि अवांछित या झूठी जानकारी से हम लाभदायक सूचना से वंचित न रह जाएं। श्री गहलोत ने छात्रों को सुझाव दिया कि वे अध्‍ययन के प्रति पूरी तरह समर्पित रहे, ताकि समाज और राष्‍ट्र उनसे बड़े पैमाने पर लाभान्वित हो सकें। केंद्रीय सामाजिक न्‍याय एवं अधिकारिता मंत्री और डॉ. अंबेकर फाउंडेशन के अध्‍यक्ष श्री थावरचंद गहलोत ने वर्ष 2015 की माध्यमिक और उच्च माध्यमिक स्कूल परीक्षा में पास होने वाले अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के मेधावी छात्रों को डॉ. अंबेडकर राष्‍ट्रीय प्रतिभा पुरस्कार प्रदान किये।

अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के उन छात्रों को, जिन्‍होंने वर्ष 2015 की 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं में टॉप किया है, उन्‍हें सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय के अधीन स्वायत्त निकाय डॉ. अंबेडकर फाउंडेशन से डॉ. अंबेकर राष्‍ट्रीय प्रतिभा पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

पुरस्कार दो श्रेणियों में वितरित किये गये है। अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के जिन छात्रों ने वर्ष 2015 की माध्यमिक स्‍कूल परीक्षा में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है, वे पहली श्रेणी में आते हैं। क्‍योंकि पहले, दूसरे और तीसरे रैंक में कोई छात्रा नहीं है, इसलिए बालिका शिक्षा को प्रोत्साहित करने के लिए सबसे अधिक अंक प्राप्‍त करने वाली छात्राओं के लिए विशेष पुरस्‍कारों की घोषणा की गई है। पुरस्‍कारों की दूसरी श्रेणी में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजातियों के उन छात्रों को पुरस्‍कृत किया गया है, जिन्‍होंने वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय परीक्षा 2015 में शीर्ष ग्रेड प्राप्‍त किये हैं।

प्रथम पुरस्कार की राशि 60,000/- रुपये, द्वितीय पुरस्कार की राशि 50,000/- रुपये और तृतीय द्वितीय पुरस्कार की राशि 40,000/- रुपये है

Source – PIB

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY