डा. अब्दुल कलाम की उपलब्धियों, उन्हें मिले पुरस्कारों और सम्मानों पर एक नज़र

0
969

apj 123

1960 में DRDO ( डिफेन्स रिसर्च एंड डेवलपमेंट ) से जुड़ने के बाद उन्होंने देश की थल सेना के लिए हेलीकाप्टर बनाया |

डा. कलाम ने ISRO ( इंडियन स्पेस रिसर्च आर्गेनाईजेशन ) में भारत के पहले इंडिजेनस सेटेलाइट लांच व्हीकल SLV–III परियोजना के निदेशक के तौर पर काम किया |

जुलाई-1980 SLV-III के द्वारा रोहिणी सेटेलाइट के सफल प्रक्षेपण के बाद डा. कलाम ने भारत की अंतरिक्ष परियोजनओं को और भी विस्तृत किया |

1980 में उन्होंने भारत के मिसाइल परियोजना का नेतृत्व किया, उनके नेतृत्व में अग्नि और पृथ्वी मिसाइलों के सफल परिक्षण के बाद भारत की सैन्य शक्ति में अभूतपूर्व इजाफा हुआ |

डा. कलाम जुलाई 1992 से दिसम्बर 1999 तक भारत के प्रधानमंत्री और DRDO के सचिव के मुख्य वैज्ञानिक सलाहकार रहे |

1998 में उन्होंने ह्रदय रोग विशेषज्ञ डा. सोम राजू के साथ मिलकर कम कीमत वाली कोरोनरी स्टेंट विकसित किया जिसका नाम उनके सम्मान में कलाम-राजू स्टेंट रखा गया, इसके बाद 2012 में इन दोनों की जोड़ी ने मिलकर गांवों में स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए एक टेबलेट कंप्यूटर का निर्माण भी किया जिसका नाम कलाम-राजू टेबलेट रखा गया |

1998 में पोखरण के द्वितीय परिक्षण में उन्होंने मुख्य भूमिका निभाई जिससे भारत एक परमाणु शक्ति संपन्न देश बन सका, उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय स्टार पर यह सन्देश भी दिया इस तरह के हथियारों का मकसद सिर्फ भारत पर कुदृष्टि रखने वाली शक्तियों को रोकना मात्र है, भारत इसका प्रयोग एक ‘शांति हथियार’ के रूप में करेगा |

2002 में भारत के 11वें राष्ट्रपति के रूप में उनके नाम पर सभी दलों ने एकता दिखाते हुए सर्वसम्मति जताई |

एक राष्ट्रपति के तौर पर उन्होंने देश-विदेश में गौरव और आशा का संचार किया, यूएन और यूरोपियन संसद में उनके उत्तेजक भाषण दुनिया के सबसे बेहतरीन भाषणों में से एक माने जाते हैं, भाषण और कार्यों में उनकी सरलता ने उनको सराहनीय और सबका प्रिय बना दिया |

राष्ट्रपति के तौर पर अपना कार्यकाल समाप्त करने के बाद डा. कलाम एक आगंतुक प्रोफेसर बन गये, बड़े पैमाने पर लेखन कार्य किया और खुद से कोशिशें करके छात्रों के विकास के लिए कई कार्यक्रम चलाये

उनकी किताबें, भाषण और कार्य एक ऐसे व्यक्तित्व की विरासत हैं जिसने अपना सारा जीवन विश्व को बेहतर बनाने में लगा दिया |

 

kmal ke klam

Info Source – Wikipedia

अखंड भारत परिवार बेहतर भारत निर्माण के लिए प्रयासरत है, आप भी इस प्रयास में फेसबुक के माध्यम से अखंड भारत साथ जुड़ें, आप अखंड भारत को ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

13 + fifteen =