मुआवजे की रकम और देवर के साथ प्रेम संबंध बने प्रिंस की हत्या का कारण

0
123

मथुरा (ब्यूरो) – बहुचर्चित प्रिंस हत्याकांड में सनसनी खेज खुलासा हुआ है। प्रिंस की हत्या की गुत्थी सुलझाने में पुलिस को भी कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। सर्विलांस टीम ने इस गुत्थी को सुलझाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।
पुलिस ने खुलासा किया है कि 19 जुलाई को प्रिंस की मां ने ही देवर के साथ प्रेम संबंधों और मुआवजे के पैसे को लेकर प्रिंस की हत्या कराई थी। प्रिंस के परिजनों ने गांव के ही ब्राह्मण परिवार के बच्चू सहित पांच लोगों के खिलाफ एसीएसटी एक्ट में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। नामजद अभियुक्त बच्चू पुत्र बनवारी को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। इन दोनों परिवारों में पहले से ही रंजिश चल रही है। इसी को अधार बना कर शक के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। दूसरी ओर सर्वदलीय किसान संघर्ष समिति ब्राह्मण परिवार के पक्ष मे उतर आई थी और निर्दोषों को फंसाने का आरोप लगाते हुए आंदोलन किया था।

प्रिंस ने देख लिया था मां चाचा को अपत्ति जनक स्थिति में मृतक प्रिंस की मां गुड्डी देवी और चाचा आकाश पुत्र बल्लो ने हत्या कर शव को लेखराज के खेत में बने कूआं में डाल दिया था। गुड्डी देवी के पति सुभाष की प्रिंस की हत्या किये जाने से पांच माह पहले ही मुकेश पंडित ने हत्या कर दी थी। मुकेश पंडित इस समय जेल में बंद है। मुआवजे के रूप में गुड्डी को आठ लाख रुपये मिल थे। पित की मृत्यु के बाद गुड्डी देवी के संबंध अपने देवर से हो गये। प्रिंस ने अपने चाचा और मां को आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया था। इसके बाद योजना बना कर प्रिंस को चाचा और मां खेत पर ले गये और चारपाई की रस्सी से प्रिंस का गला घौंट कर हत्या कर दी गई। गुड्डी को मुआवजे के 4.5 लाख रुपये मिल भी चुके हैं। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

रिपोर्ट – लोकेश सैनी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here