यू पी 100 की दहशतगर्दी से क्षेत्र में दर का माहौल

0
105

बीघापुर/उन्नाव(ब्यूरो)- यू.पी.100 पुलिस की कारगुजारियां क्षेत्र में चर्चा का विशय बनी हुई हैं, कभी अवैध वसूली तो कभी फर्जी धौंस जमा कर आम जनता को सहूलियतों के बजाय इस यूपी100 पुलिस से लोगों को कठिनाइयां होने लगी हैं।

ऐसा ही प्रकरण गुरुवार को थाना बारासगवर के जगतपुर के मजरे नानमऊ में घटा,जिसमें यूपी 100 पुलिस ने दो यूवकों को बिना किसी जांच पड़ताल के मारते-मारते बेहोष कर दिया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार उक्त गांव में मो0सिद्दिकी की बेटी चमेली बानो की षादी थी, घर की मोटरसाइकिल का पेट्रोल खत्म हो जाने के कारण मो0 सिद्दिकी के दोनों बेटे दूसरे की मोटरसाइकिल मांग कर बक्सर पेट्रोल लेने जा रहे थे, तभी रास्ते में जगतपुर जूनियर हाईस्कूल नहर के पास उस मोटरसाइकिल का भी पेट्रोल खत्म हो गया। जिसे घसीट कर पास में ही जहां चन्द्रमोहन होमगार्ड का पुत्र अर्जुन पेट्रोल बेचता है, वहां पहुंचे और पेट्रोल लेने के लिए आवाज दी। किन्तु रात अधिक हो जाने के कारण अर्जुन दुकान बन्द कर घर जा चुका था।

इस लिए दोनों मोटरसाइकिल को झुका कर उसे स्टार्ट करने का प्रयास करने लगे। तभी अचानक अर्जुन व उसके होमगार्ड पिता आ गए और दोनों मिलकर मो0 सफीक व रसीद को मारने लगे और यूपी 100 को चोर पकड़ लेने की सूचना दी।

मौके पर पहुंची यूपी 100 पुलिस ने सफीक व रसीद को इतना पीटा की वे बेहोश हो गए। इस बीच किसी ने सफीक व रसीद के पिता मो0 सिद्दिकी को जानकारी दी। पहुंचे परिजनों ने दोनों को ऊँचगाँच पीएचसी ले गए, जहां पर कोई डाक्टर न मिलने के कारण निजी उपचार कराना पड़ा।

सूत्र बताते हैं कि बारासगवर थाना पुलिस को घटना की सूचना मिलने पर उक्त पीड़ितो को पुलिस थाने उठा लाई और देर रात तक बैठाए रखा। जब इस सम्बन्ध में बारासगवर थानाध्यक्ष से बात की गई तो उन्होंने कहा कि दोनों पक्षों में समझौता हो गया है। इस लिए सभी को छोड़ दिया गया है।

रिपोर्ट-मनोज सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here