एक फोन से नगर का माहौल बिगड़े बिगड़ते बचा

0
78

बांगरमऊ/उन्नाव(ब्यूरो)- नगर में आज दोपहर किसी शरारती तत्व के एक फोन से नगर का माहौल बिगड़े बिगड़ते बचा । शव दफन करने पर लगाई गई प्रशासन की रोक के बाद नगर के हजारों लोग जमा कब्रुस्तान पर जमा हो गए। और प्रशासन की कार्यवाही का विरोध करनें लगे । किन्तु शहर काजी की सूझ-बूझ से मामला टल गया।

बताते चलें कि नगर के मोहल्ला नसीम गंज निवासी आरिफ पुत्र अब्दुल रहमान की मौत बुधवार की शाम एक सड़क दुर्घटना में हो गई थी। उसके परिवार के सदस्य आज दोपहर उसका शव दफन करने के लिए राजकीय बालिका महाविद्यालय के निकट स्थित कब्रिस्तान लेकर आए थे ।

तभी किसी शरारती तत्व ने प्रशासन को सूचना दे दी की कि विवादित कब्रिस्तान मे कुछ लोग शव करना चाहते हैं। जिसका कोर्ट में मुकदमा चल रहा है ।यदि उन्होंने वहॉँ शव दफन कर दिया तो काफी विवाद होने की संभावना है ।

इस सूचना पर उपजिलाधिकारी इंद्रसेन यादव, क्षेत्राधिकारी रामअर्ज, कोतवाली प्रभारी डीपी सिंह भारी पुलिस बल लेकर मौके पर पहुंच गए और शव दफन करने से मना कर दिया । यह खबर शहर में बड़ी तेजी के साथ फ़ैली और हजारों लोग शहर से आकर कब्रिस्तान पर इकट्ठा हो गए और प्रशासन की कार्यवाही का विरोध करने लगे ।

माहौल बिगड़ता देख प्रशासन के हाथ पांव फूल गए और इस फैसले के लिए प्रशासन ने शहर काजी अब्दुल जियाउल आरफीन को मौके पर बुलाया । जब उन्होंने लोगों को समझा कर अधिकारियों को बताया कि यह सार्वजनिक कब्रस्तान है और यहां आए दिन दो-तीन शव दफन होते रहते हैं । उन्होंनें यह भी बताया कि इसका न कोई विवाद है ना कहीं मुकदमा चल रहा है।

प्रशासन को गुमराह करने तथा शहर का माहौल खराब करने के उद्देश्य से किसी शरारती तत्व द्वारा उक्त फोन किया गया है । इसके बाद शहर काजी की बात से प्रशासन के लोग मान गए और उसी कब्रिस्तान में उक्त शव को उसी स्थान पर दफ़न करनें की इजाजत प्रदान कर दी।

कोतवाल नें बताया फोन कर नगर का माहौल खराब करनें वाले की खोज कर कार्यवाही की जायेगी ।

रिपोर्ट-रघुनाथ प्रसाद शास्त्री

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here