परीक्षा देने को कॉलेज में ठहरे छात्र की छत से गिरकर मौत 

0
65
प्रतीकात्मक फोटो

उरई/जालौन(ब्यूरो)- परीक्षा देने के लिए कालेज में ठहरे एक छात्र की शनिवार की रात छत से गिरकर मौत हो गई। सुबह के वक्त जब साथी छात्रों ने यह देखा तो उन्होंने इसकी जानकारी कालेज प्रशासन को दी। सूचना पर छात्र के परिजन व पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने मृतक छात्र के शव का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस इसे प्रथम दृष्टया हादसा मान रही है।  बुंदेलखंड के जिला महोबा क्षेत्र के ग्राम जखा निवासी चरन सिंह राजपूत 25 वर्ष पुत्र जगत सिंह राजपूत उरई के राठ रोड स्थित शताब्दी महाविद्यालय में बीएससी प्रथम वर्ष का छात्र था। बीते काफी समय से उसकी परीक्षा चल रही थीं। घर काफी दूर होने के कारण वह बार-बार आने-जाने में असफल था इसलिए अपने साथियों के साथ कालेज परिसर में ही ठहरा था और यहीं पर रहकर परीक्षाएं दे रहा था।

शनिवार की रात वह रोज की तरह अपने साथियों के साथ कालेज की छत पर सो रहा था। तभी रात में अचानक वह छत से नीचे गिर गया और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। सुबह के वक्त जब उसके साथी युवक जागे और उन्होंने चरन सिंह का शव जमीन पर पडा देखा तो उनके होश उड गए। आनन-फानन में उन्होंने इसकी सूचना कालेज प्रशासन को दी। इस खबर से कालेज प्रशासन भी सन्न रह गया और यह जानकारी मृतक छात्र के परिजनों व डकोर कोतवाली पुलिस तक पहुंचाई गई।

सूचना पाकर पुलिस व मृतक छात्र के परिजन भी मौके पर पहुंच गए और उनकी मौजूदगी में पुलिस ने शव का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। प्रथम दृष्टया पुलिस इसे हादसा मानकर चल रही है। संभावना जताई जा रही है कि रात के वक्त छात्र पानी या टॉयलेट के लिए जागा होगा और अंधेरा होने के कारण वह छत से नीचे गिर गया। इस बारे में डकोर कोतवाल जितेंद्र तिवारी का कहना है कि प्रथम दृष्टया यह हादसा प्रतीत हो रहा है। अगर पीडित पक्ष लिखित तहरीर देकर कोई आरोप लगाएगा तो उनके उस बिंदु को भी ध्यान में रखकर जांच की जाएगी। फिलहाल मृतक युवक की पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है।

रिपोर्ट- अनुराग श्रीवास्तव 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY