जिलाधिकारी के निर्देश पर गठित टीम ने सप्लायर के बिल बाउचर बुक को किया जब्त

0
77

सोनभद्र (ब्यूरो)- चोपन विकास खण्ड के कोटा ग्राम पंचायत में अनियमितता के चलते वर्षों से चल रहे जॉच पड़ताल के अतिंम दौर में जिलाधिकारी के निर्देश पर गठित टीम ने सप्लायर के बिल बाउचर बुक को किया जब्त । ग्राम पंचायत के ठप पड़े विकास कार्य को सुचारु रुप से संचालन करने हेतू उपस्थित लोगों ने टीम के समक्ष गुहार लगाई। प्राप्त जानकारी के अनुसार अनिमितता को लेकर स्थानीय पंचायत के निवासी ने जिलाधिकारी के समक्ष शपथ पत्र देकर जॉच की मॉंग की थी । जिसको लेकर जिलाधिकारी ने तीन सदस्यी टीम गठित किया था, जिसको जाँच के अतिंम पड़ाव पर पंचायत भवन पर जॉच करने पहुचे और पत्रवालियों को जॉच पड़ताल किया तो पता चला की एक ही कैश बुक एक ही नम्बर की दो दो बिल मौजूद है तथा किसी बिल पर ग्राम विकास अधिकारी के हस्ताक्षर ही नही है। टैंकर को खरीदने का मामला जो बिना आईडी जनरेट किए खरीद लिया गया और फर्जी तरीके से बिल का भुगतान किया|

फर्जी मस्टरोल का मामला भी प्रकाश में आया । जिसमें कार्य के पहले ही भुगतान कीया गया और अंन्त में ग्रामीणों ने टीम को बताया की चोपन विकास खंड के लगभग तीस हजार से अधिक की आबादी वाले कोटा ग्राम पंचायत में कई माह से पंचायत का खाता अवरूद्ध होने से ग्राम पंचायत का विकास कार्य ठप हो गया है। गांव की जनता को केन्द्र व प्रदेश से मिलने वाली कई योजनाओं से वंचित रहना पड़ा है । खाता संचालन का कार्य बंद  होने से गांव में निर्माण कार्य, साफ सफाई आदि कार्य ठप हो गया है।

मौके पर मौजूद ग्राम पंचायत सदस्य द्वारा जांच टीम से पूछे गये प्रश्नो का जवाब दिया । टीम में शामिल उप कृषि निदेशक जगदीश कुमार ने बताया कि आज खुली जांच पडताल का अंतिम दौर है । जिसे भी अपना ब्यान दर्ज कराना हो वे लिखित तौर पर शुक्रवार की चार बजे तक माईनर के अधीशासी अभियंता इं. आन्नद कुमार को दे सकता है। जांच टीम में लेखाकार क्षितिज सिंह के साथ टेक्निकल अधिकारी भी मौजूद रहे ।

रिपोर्ट- ज़मीर अंसारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here