चीनी मिल को चालू करने की मांग काे लेकर किसानो ने किया प्रदर्शन,

0
19

सोनीपत- गोहाना के आहुलाना गांव में स्थित देवी लाल शुगर मिल को शुरू करवाने की मांग को लेकर मिल में किसानो ने मिल प्रशासन व् सरक़ार के खिलाफ प्रदर्शन कर शुगर मिल के एमडी को ज्ञापन सौंपा, मिल में प्रदर्शन कर रहे किसानो ने मिल बंद रहने के कारण किसानों को हो रहे नुकसान की भरपाई की मांग की | किसानो ने आरोप लगाया कि चीनी मिल को एनजीटी के नाम पर जान बुझकर बंद किया गया है|

मिल के बंद होने से किसानो को दोहरा नुकसान हो रहा है, जिस के चलते किसान अब सरकार से उनके नुकसान के मुवावजे की मांग कर रहे है| उधर मिल के एसडी सुभीता ढाका ने मिल बंद होने के कारनो व् मिल के शुरू होने के बारे में मीडिया के सामने कुछ भी बोलने से मना कर दिया| हलाकि 11 नवम्बर को शुगर मिल को आनन् फानन में शुरू कर दिया था लेकिन तुरंत मिल को बंद कर दिया, लगता है अबकी बार जहाँ मिल को 15 दिन पहले शुरू किया था उससे किसानो को कुछ आस जगी थी लेकिन मिल के बंद होने से अब किसान मायूस है और मिल प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन करने पर मजबूर है |

मंगलवार को भारतीय किसान यूनियन के रोहतक मंडल के अध्यक्ष सत्यवान नरवाल के नेतृत्व में दर्जनों किसानों ने चीनी मिल परिसर में सरकार व मिल प्रबंधन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की तथा आरोप लगाया कि चीनी मिल को बंद करने से क्षेत्र के किसानों को भारी आर्थिक नुकसान हो रहा है। किसानों ने आरोप लगाया कि 11 नवंबर के मिल चालू करने के लिए लिए किसानों पर्ची वितरित की गई थी। जिससे किसान गन्ना लेकर मिल में पहुंच गए। उसी दिन से मिल को एनजीटी का हवाला देकर बंद कर दिया गया। अब किसानों का गन्ना ट्राली में पड़ा सूख रहा है तथा खेतों में भी गन्ना पड़ा हुआ है। किसान नेता सत्यवान नरवाल ने आरोप लगाया कि मिल में गन्ना लाने के लिए किसानों ने लेबर खेतों में लगा ली। अब गन्ना न भेजे जाने के कारण किसानों को लेबर की दिहाड़ी देनी पड़ रही है। इस प्रकार किसानों को कम से कम 10 हजार प्रति एकड़ का नुकसान हो रहा है। यूनियन ने सरकार से किसान की भरपाई करने की मांग की है।

मिल बंद किये जाने के बारे जब शुगर मिल के एमडी सुभीता ढाका से बात करने की कोसिस की मिल की एमडी ने कैमरे के सामने कुछ भी बोलने से मना कर दिया हाला की 11 नवम्बर को जब मिल के इस साल के पिराई सत्तर की सुरवात की गई तो उस समय मिल को मिल की एमडी व् गोहाना की एसडीएम सुभीता ढाका ने एनजीटी के आदेश नहीं मिलने की बात को कह कर शुगर मिल की सुरवात की थी लेकिन मिडिया के जाने के बाद तुरंत मिल को बंद कर दिया गया आज चार दिन बित जाने के बाद भी सुगर मिल सुरु नहीं हो सका |

वीडियो-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here