लापरवाही के चलते हुई बच्चे की शिकायत पर जाँच टीम का गठन

0
50

फतेहपुर चौरासी/उन्नाव(ब्यूरो)- प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में 35 दिन पूर्व प्रसव के दौरान बच्चे की मौत होने के मामले में पैसा न देने के कारण लापरवाही बरतने की शिकायत के मामले की जांच करने के लिए दो सदस्यीय टीम का गठन किया गया है| जांच टीम में अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी और एक जिला अस्पताल के डॉक्टर भी शामिल हैं|

बताते चलें फतेहपुर चौरासी थाना क्षेत्र के ग्राम मझेरिया निवासी रामखिलावन की पत्नी मालती ने अपनी बेटी शिवकुमारी को प्रसव के लिए पांच मई को फतेहपुर चौरासी स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया था| मालती का आरोप है कि ड्यूटी पर मौजूद रही महिला स्वास्थ्य कर्मी मीरा ने पैसों की मांग की, न देने पर उसने लापरवाही से प्रसव कराया, जिससे बच्चे की मौत हो गई| मालती ने शासन तक को शिकायती पत्र भेजा था, शिकायत मिलने पर जिला अधिकारी आदिती सिंह ने सीएमओ को जांच कराने का आदेश दिया| जिस शुक्रवार को दो सदस्य जांच समिति गठित की गई है| सीएमओ ने अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर मनोज निगम और जिला अस्पताल के डॉक्टर एनेस्थेटिस्ट धीर सिंह को जांच टीम में नामित किया गया है। उन्होंने बताया जांच अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि एक सप्ताह में जांच पूरी करें|

रिपोर्ट- रघुनाथ प्रसाद

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY