डोंगरगढ़ सरकारी हॉस्पिटल में अचानक पहुंचे नगर पालिका अध्यक्ष, अव्यवस्था देख हुऐ नाराज

0
298

डोंगरगढ/छत्तीसगढ़(राज्य ब्यूरो)- सरकारी हॉस्पिटल का औचक निरीक्षण नगर पालिका अध्यक्ष तरुण हथेल ने किया। तरुण हथेल ने अस्पताल में अव्यवस्था देखकर नाराजगी जाहिर की और कहा कि अगर समय रहते व्यवस्था ठीक नही हुई तो जन आन्दोल के माध्यम से सबक सिखाया जाएगा । शासन-प्रशासन को ध्यान में लाकर कई दिनों से इसकी जन शिकायत मेरे पास भी आई, अन्य जनप्रतिनिधियो के पास भी आ रही है| समय-समय मे अखबार और सोशल मिडिया के माध्यम से देखने व सुनने को मिल रही थी| शिकायत उसी को व जनहित को ध्यान में रखकर मेरे द्वारा निरीक्षण किया गया|

तरुण ने कहा अच्छा होगा कि डोंगरगढ सरकारी हास्पिटल प्रशासन द्वारा जनहित को ध्यान में रखकर अपनी जिम्मेदारी निभाए क्योकि हम सब जनता के मात्र सेवक है, उससे ज्यादा कुछ नही| इस सरकारी अस्पताल में यहाँ की अव्यवस्था को लेकर जोगी काग्रेस के कार्यकर्ताओं के द्वारा भी आंदोलन किया जा चुका है और साथ ही आये दिन इस अस्पताल की शिकायते सुनने को मिलती रहती है| समय पर यहाँ डॉक्टरों का नही पहुचना और साफ-सफाई जैसी कई समस्या इस अस्पताल के बारे में सुनने को मिलती रहती है| जब मैने वहाँ देखा कि इस अस्पताल में एक काले रंग का कुत्ता बड़े आराम से वहाँ पर सोया हुआ है और वही से डॉक्टरों का आना जाना हो रहा है लेकिन उसे वहाँ से कोई भी नही भगाया| अगर इस कुत्ते के ऊपर किसी मरीज का पैर पड़ जाए और उसके द्वारा काटने जैसी दुर्घटना हो सकती है लेकिन इस अस्पताल के बीएमओ साहब का भी ध्यान नही जाता है| इस अस्पताल की समस्या से बहुत से लोग परेशान है लेकिन यहाँ की अव्यवस्था सुधारने में प्रशासन ध्यान नही दे रहा है ।

अगर ऐसा ही रहा तो डोंगरगढ़ की जनता इस समस्या को लेकर जन आंदोलन कर सकती है| यहाँ पर रात्रि के समय डॉक्टर आन काल डियूटी में रहते है अगर कोई एमरजेंसी केस आ जाये तो डॉक्टर को फोन कर बुलाया जाता है जबकि डोंगरगढ़ धर्म नगरी है| यहाँ पर माँ बम्लेश्वरी देवी के दर्शन करने हजारों दर्शनार्थी आते जाते रहते है और डोंगरगढ़ में रात्रिकालीन डॉ. हमेशा अस्पताल में होना चाहिए| जिससे रात्रि में आये मरीजो को तत्काल डॉक्टर की सुविधा मिलनी चाहिए लेकिन यहाँ पर ऐसी व्यवस्था नही है। क्या यही विकास है? डोंगरगढ़ का सरकार तो बहुत बड़े-बड़े वादे करती है लेकिन आम नागरिकों से जुड़ी समस्याओं को नही देखती है| मै चाहूँगा कि शासन इस ओर जल्द से जल्द ध्यान दे ताकि इस समस्या का हल हो सके ।

रिपोर्ट- महेंद्र शर्मा (बंटी)/हरदीप छाबड़ा

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY