दोहरे हत्याकाण्ड का पुलिस ने किया खुलासा, एक गिरफ्तार

0
310

ips VARANASI

चंदौली (ब्युरों)- पिछले दिनो जनपद के सैयदराजा थाने के पचदेवरा गांव मे हुए सनसनी खेज दोहरे हत्याकांड का पुलिस ने मंगलवार को पर्दाफाश कर दिया, अधिवक्ता पिता और पुत्र की हत्या के मामले में एक अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया गया है और 2 अभी फरार है| पुलिस यह दावा कर रही है की उन दोनों को भी जल्द से जल्द पकड़ लिया जाएगा, दिल दहलाने वाली यह घटना घटी यूपी के चंदौली जनपद में महज तीन बिस्वा जमीन के खातिर रास्ते का काटा बने अपने ही सगे चाचा और उसके पुत्र यानि अपने चचेरे भाई की निर्ममता पुर्वक गोली मारकर हत्या की खबरे क्या आपने सुनी है ?

यदि नहीं तो आज हम आपको बताते है की जमीन के छोटे से टुकडे़ के लिए अपने ही अपनो के दुश्मन बन गये, दुश्मनी भी ऐसी की इसमे दो लोगो की हत्या इस बेरहमी से कर दी गई की इसे सुनकर आपके भी रोंगटे खड़े हो जायेंगे, नकाब से ढके इस चेहरे के पीछे वो क्रूर चेहरा छुपा है जिसने महज तीन बिस्वा जमीन की खातिर अपने सगे चाचा और उसके पुत्र की न सिर्फ सरेराह बेरहमी से गोली मरकर उन्हें हमेशा के लिए मौत की नींद सुला दिया बल्कि चंदौली पुलिस की नींद भी हराम कर दी क्योंकि मृतको में एक अधिवक्ता सिविल वार एसोसिएशन चंदौली का पूर्व अध्यक्ष  तो दूसरा उसका पुत्र  शामिल था।

इस हत्या के बाद अधिवक्ता हत्यारो की गिरफ़्तारी की मांग को लेकर लामबंद भी है, दरअसल आरोपी के मकान के ठीक सामने तीन बिस्वा जमीन थी जिसपर मृतक अधिवक्ता प्रेम प्रकाश सिंह और आरोपी के पिता के बीच कई वर्षो से विवाद चल रहा था इसी दौरान बीते 13 जनवरी को आरोपी उसके पिता और मृतको के बीच पहले तू-तू, मैं-मैं हुई और देखते ही देखते रिश्तो की परवाह किये बगैर इस शक्स ने अधिवक्ता प्रेम प्रकाश सिंह और उनके पुत्र को गोलियों से छलनी कर डाला जिससे उन दोनों की मौके पर ही मौत हो गयी |

मामला चुकी चंदौली जिले के सीनियर अधिवक्ता और उसके पुत्र की हत्या से जुड़ा था इसको देखते हुए पुलिस पहले दिन से ही इस पर गंभीरता से काम कर रही थी लेकिन कल से अधिवक्ताओ के लामबंद होकर सड़क पर उतरने से पुलिस की नींद हराम हो गई थी, पुलिस के  लिए इस घटना की गंभीरता का अंदाज इसी बात से लगाया जा सकता है की इस दोहरे हत्या कांड के खुलासे और हत्यारो की गिरफ़्तारी के लिए जिले के दो दो सर्किलों के तेज तर्रार माने जाने वाले क्षेत्रधिकारियो के नेतृत्व में पुलिस की कई टीमें गठित करनी पड़ी|

बकौल एसपी इस टीम के अथक प्रयास और सर्विलांस की मदद से पुलिस को आज इनके सैयदराजा थाना क्षेत्र के मनराजपुर गाँव  में छुपे होने की सूचना प्राप्त हुई जिस पर तत्काल कार्यवाई करते हुए घेरे बंदी कर घटना के मुख्य अभियुक्त कुंवर विवेश सिंह उर्फ़ बिट्टू को हत्या में प्रयुक्त पिस्टल के साथ गिरफ्तार कर लिया गया, जबकि इस घटना में शामिल इसके बड़े भाई कुंवर रजनीश सिंह उर्फ़ बाबू और इसके पिता अजय कुमार सिंह उर्फ़ संत शरण सिंह अब भी पुलिस की पकड़ से दूर है जिन्हें पकड़ने के लिए पुलिस ने जाल बुनना शुरू कर दिया है।
रिपोर्ट-दीपनारायण यादव/उमेश दुबे
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here